ऋषिकेश, सुनार की दुकान में चोरी का खुलासा, करीब आधा किलो चांदी बरामद, एक आरोपी पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
241

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन के रिपोर्टर प्रिया अरोरा ऋषिकेश

कोतवाली ऋषिकेश दिनांक 03.11.2020,सुनार की दुकान में चोरी का खुलासा, एक आरोपी गिरफ्तार, करीब आधा किलो चांदी (598 ग्राम) की ज्वैलरी बरामद दिनांक 23.10.2020 को अज्ञांत चोरो द्वारा रस्तोगी ज्वैलर्स की दुकान का शटर उठाकर दुकान के अन्दर से चांदी की ज्वैलरी चोरी कर ली थी। इस सूचना पर दुकान स्वामी सुमित रस्तोगी पुत्र कृष्ण गोपाल रस्तोगी निवासी खदरी रोड़ श्यामपुर ऋषिकेश ने कोतवाली ऋषिकेश पर अज्ञांत चोरो के विरूद्ध मु0अ0सं0 383/2020 पंजीकृत कराया गया।

घटना से शीघ्र एवं सफल अनावरण हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय, देहरादून के कुशल निर्देशन, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय व क्षेत्राधिकारी के निकट प्रर्यवेक्षण में सादा एवं वर्दी में चार पुलिस टीम गठित की गयी। गठित पुलिस टीम द्वारा पूर्व में प्रकाश में आये, जेल से रिहा हुये चोरो के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित कर उनका भौतिक सत्यापन किया गया। ज्वैलर्स की दुकान व सड़क में लगे लगभग 150 सी0सी0टी0वी0 कैमरों की फुटेज चैक की गयी। फुटेज देखने पर दो व्यक्ति दुकान के अन्दर व आस पास तथा एक व्यक्ति रेलवे ट्रैक व सड़क पर घूमता हुआ दिखाई दे रहा है। इस वीडियो फुटेज को मुखबिर को दिखाकर जानकारी की गयी तो मुखबिर ने बताया कि यह व्यक्ति कबाड़ बीनने वालों की तरह दिखाई दे रहे हैं। इस पर पुलिस टीम द्वारा ऋषिकेश में रेलवे स्टेशन, कालेकीढाल व अन्य स्थानों पर झुग्गी डालकर रहने वाले कबाड़ियों के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित की गयी तो पाया कि रेलवे स्टेशन के समीप बनी झुग्गियों में से दो लड़के पिछले काफी दिनो से नही दिख रहे हैं तथा उनका एक साथी जिसका नाम भोला है वह यंही घूम रहा है। दिनांक 02.11.2020 को देर सांय पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि भोला नाम का व्यक्ति चोरी की ज्वैलरी को बेचने के लिये गुमानीवाला बाजार में घूम रहा है, जिस पर पुलिस टीम द्वारा भोला को चांदी की ज्वैलरी के साथ गुमानीवाला में गिरफ्तार किया गया, जिसके पास से सुमित ज्वैलर्स की दुकान से चोरी गये चांदी के ज्वैलरी बरामद अभियुक्त भोला पुत्र दुल्ला निवासी प्रेमनगर मुल्लनपुर, थाना मुल्लनपुर, जिला लुधियाना पंजाब हाल झुग्गी झोपड़ी पुराने रेलवे स्टेशन के पास ऋषिकेश
वांछित अभियुक्त रवि पुत्र दुल्ला निवासी प्रेमनगर मुल्लनपुर, थाना ढाका, जिला लुधियाना पंजाब हाल झुग्गी झोपड़ी पुराने रेलवे स्टेशन के पास ऋषिकेश। कुचिया उर्फ साजन पुत्र राजू निवासी प्रेमनगर मुल्लनपुर, थाना ढाका, जिला लुधियाना पंजाब हाल झुग्गी झोपड़ी पुराने रेलवे स्टेशन के पास ऋषिकेश,बरामद माल का विवरण – चांदी की ज्वैलरी कुल वजन 598 ग्राम (कीमत लगभग 35 हजार रूपये),चांदी की पायल – पांच जोड़ी व 17 पायल अलग अलग,चांदी के बच्चे के हाथ के कंगन – एक जोड़ी
चांदी का मंगलसूत्र – एक पूछताछ का विवरण -पूछताछ में अभियुक्त भोला ने बताया कि हम लोग बावरिये जाति के हैं तथा मूल रूप से लुधियाना पंजाब के रहने वाले हैं हम लोग रेलवे स्टेशन के आस अस्थाई तौर पर झुग्गी बनाकर रहते हैं तथा कबाड़ चुगने का कार्य करते हैं। लाॅक डाउन के पहले से हम लोग यंही पर ही हैं। बीच बीच में हम लोग कबाड़ चुगने के लिये स्योहारा बिजनौर, मुरादाबाद तक चले जाते हैं तथा कुछ दिन वंही पर रहकर वापस ऋषिकेश आ जाते हैं। मेरे साथ मेरा पूरा परिवार अलग अलग झुग्गी बनाकर रहता है जिसमें मेरे पिता, माॅ, मेरी पत्नी, मेरे बच्चे, मेरा भाई रवि व मेरा जीजा कुचिया उर्फ साजन रहते थे। कुचिया उर्फ साजन व मेरा भाई रवि एक साथ कबाड़ बीनने जाते थे तथा साम के समय हम तीनो मिलकर शराब भी पीते थे। एक बार दोनो ने मुझे बताया कि हमने श्यामपुर में एक सुनार की दुकान देखी है जिसमें आराम से चोरी की जा सकती है। इस पर हम तीनो से सुनार की दुकान में चोरी करने की योजना बनायी। योजना के मुताबिक दिनांक 23.10.2020 को कुचिया उर्फ साजन व रवि दिन के समय सुनार की दुकान की तरफ श्यामपुर चले गये तथा मैं शाम के समय श्यामपुर पंहुचा। रात होने पर यह दोनो दुकान में चले गये व मैं सड़क व रेलवे ट्रैक पर पुलिस व आने जाने वालों पर नजर रखने लगा। काफी देर बाद यह दोनो चोरी कर वापस आये व मुझे एक डिब्बे में रखी कुछ चांदी की ज्वैलरी देकर कहा कि बाकी ज्वैलरी को हम लोग ऋषिकेश से बाहर जाकर बेचेगें जिसका बंटवारा हम बाद मंे करेगें। इसके बाद हम तीनो रेलवे ट्रैक होकर वापस अपनी झुग्गी में आ गये तथा अगले दिन कुचिया उर्फ साजन व रवि यहां से कंही चले गये जिसका मुझे पता नही। अभियुक्त को माननीय न्यायालय पेश किया जा रहा है।
फरार अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी व शेष माल की बरामदगी हेतु टीम गठित कर सम्भावित स्थानों पर रवाना की गयी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here