एक विवाहित युवती अपने दो नाबालिक बच्चों के साथ ढाई माह से लापता को बच्चियों सहित पुलिस ने सकुशल बरामद किया मुंबई से पुलिस की हो रही है भूरी भूरी प्रशंसा

0
781

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर देहरादून उत्तराखंड

थाना सहसपुर

*..एक विवाहित युवती अपनी 02 नाबालिक बच्चियों सहित ढाई माह से लापता को बच्चियों सहित मुम्बई से शहकुशल बरामद किया।*
———————————————-
*दिनाँक 5.12.18*
—————————

दिनाँक 18.09.18 को थाना सहसपुर पर वादी *श्री मोनू पुत्र सोहनलाल निवासी ग्राम लखखनवाला थाना सहसपुर देहरादून ने सूचना अंकित कराई कि उसकी पत्नी रोहिणी (उम्र 27 वर्ष) अपनी दो बेटियों क्रमशः 1. उम्र 07 वर्ष एवम 2. उम्र 03 बर्ष को लेकर दिनाँक 16.09.18 से घर से रहस्यमय तरीके से लापता है।* उक्त सूचना पर तत्काल रिपोर्ट दर्ज की गई। उक्त घटना की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए *श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदया* द्वारा संज्ञान लेते हुए उक्त महिला एवम बच्चियो की सिर्घ बरामदगी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए , उक्त आदेश के अनुपालन में *श्रीमान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदया एवम श्रीमान छेत्रधिकारी विकासनगर महोदय* के पर्यवेक्षण में तथा *थानाध्यक्ष सहसपुर* के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया गया, *उक्त प्रकरण के में परिजनों द्वारा बार- बार किसी अनहोनी घटना घटित होने की बात कह कर पुलिस पर बहुत दबाब बनाया गया , किन्तु पुलिस द्वारा धैर्य पूर्वक उक्त गुमशुदा महिला एवम बच्चों के संबंध में सर्वेलांस के माध्यम से एवम हर संभावित पहलू पर विवेचना करते हुए पतारसी सुरागरसी की गई तथा अपना मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया जिस पर यह जानकारी प्राप्त हुई कि उक्त महिला अपने बच्चों सहित पनवेल मुम्बई महाराष्ट्र में है । इस सूचना पर एक पुलिस टीम ततकाल मुम्बई के लिए रवाना हुई और मुम्बई पहुंचकर उक्त महिला की खोजबीन की गई तो उक्त महिला अपनी दोनों बच्चियों सहित पनवेल मुम्बई में आयुष रिसोर्ट में पलम्बर का काम करने वाले मनप्रीत सिंह पुत्र चरण सिंह निवासी ग्राम सियार थाना मॉलोंट जिला लुधियाना , पंजाब हाल पलम्बर आयुष रिसोर्ट पनवेल मुम्बई उम्र 27 वर्ष के साथ मिली, जिसको उसकी इच्छा से बच्चियों सहित आज दिनाँक 5.12.18 को शहकुशल मुम्बई से सहसपुर लाया गया। सहसपुर लाने पर महिला द्वारा अपने पति के साथ जाने से इनकार किया गया, एवम दोनो पति पत्नी की सहमति से दोनों बच्चियों को पिता के सुपुर्द कर दिया गया है। रोहिणी द्वारा अपने पति के साथ जाने से इनकार करने पर उक्त महिला के कथन कल दिनाँक 6 .12. 18 को संबंधित माननीय न्यायालय में कराये जाएंगे ततनुसार अग्रिम कानूनी कार्यवही की जाएगी ।*

*उल्लेखनीय है कि मोनू का विवाह 28 जून 2010 को हिन्दू रीतिरिवाज के साथ रोहिणी से हुआ था। मोनू सेलाकुई में फैक्ट्री में काम करता है और इनकी आर्थिक स्थिति ज्यादा ठीक नही है। इनके 8 वर्ष के वैवाहिक जीवन से दो पुत्रियां 7 वर्ष एवम 3 वर्ष हुई। दोनो पति पत्नी में आर्थिक स्थिति एवम अन्य कुछ पारिवारिक स्थिति को लेकर विवाद रहता है, इसी दौरान 2.09.18 को रोहिणी की फेसबुक पर मनप्रीत सिंह से दोस्ती हो गई और उसने अपनी पारिवारिक स्थिति को मनप्रीत से बताया गया जिस पर दिनाँक 16 .09.2018 को मनप्रीत हरिद्वार आया और रोहिणी अपने दोनों बच्चों को अपने साथ लेकर हरिद्वार पहुंची और फिर दोनों बच्चियों सहित हरिद्वार से मुम्बई चले गए।*

…उक्त महिला की बरामदगी में आरक्षी प्रवीण कुमार एवम दीपक चौहान ने मुख्य भूमिका निभाई है, जिनके कार्य की उच्चाधिकारीगनों द्वारा भी सराहना की गई है।*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here