देहरादून, दो माह पूर्व युवती की हत्या कर शव को किमाड़ी के जंगलों में छुपाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार, अभियुक्त की निशानदेही पर शव बरामद

0
171

देहरादून, दो माह पूर्व युवती की हत्या कर शव को किमाड़ी के जंगलों में छुपाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार, अभियुक्त की निशानदेही पर शव बरामद।
देहरादून,25 जून को थाना कोतवाली नगर में हलधर मुखर्जी निवासी क्वार्टर नम्बर 04-2 छोरा अस्पताल,बहला पुलिस स्टेशन अंडाल वेतमान,पश्चिम बंगाल ने एक शिकायत पत्र दिया गया।जिसमे शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि उनकी पुत्री निवेदिता मुखर्जी पहले दिल्ली में नोकरी करती थी और बाद जाखन देहरादून आ गई थी।उन्होंने पुलिस को जानकारी दी कि निवेदिता मुखर्जी 2020 में अंकित कुमार के सम्पर्क में आ गई थी।निवेदिता के पिता ने बताया कि उनकी पुत्री निशा गहलोत 348 चुखु मोहल्ला नेशविला रोड़ स्थित पेइंग गेस्ट में रहती थी।अंकित चौधरी पुत्र जगपाल चौधरी निवासी फन्दपुरी सहारनपुर उत्तर प्रदेश का रहने वाला है।उन्होंने जानकारी दी कि अंकित कुमार देहरादून में मैटेरियल सप्लाई व ऑनलाइन नोकरी का कार्य करता है।जिससे उनकी बेटी का प्रेम सम्बन्ध हो गए थे।और एक दूसरे से विवाह करना चाहते थे।निवेदिता अंकित कुमार के लगातार संपर्क में थी। और आखरी बार 28 मई को अंकित की माँ से निवेदिता की बात हुई थी।उस दिन के बाद उनकी बेटी ने उनसे कोई अमोरक नही किया।काफी समय गुजर जाने के बाद अंकित कुमार से फेसबुक के जरिये बात हुई तो उन्होंने अपनी बेटी के लिये पूछा तो ओट चला कि उसकी मौत हो गई है।इसी को लेकर पुलिस ने तहरीर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के दिशा-निर्देश पर क्षेत्राधिकारी नगर,क्षेत्रधिकारी डालनवाला के नेतृत्व में टीम गठित की गई और पुलिस ने तुरंत कार्यवाही करते हुए अंकित कुमार पुत्र जगपाल निवासी फन्दपुरी थाना नकुड़ जिला सहारनपुर उत्तर प्रदेश थाना कोतवाली नगर लाया गया । अंकित कुमार से उक्त सम्बन्ध में सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा बताया गया कि निवेदिता व उसका आठ महीने से एक दूसरे को जानते थे।और शादी भी करना चाहते थे।24 अप्रैल 2021 को उसके पास फ्लैट न0 306 रॉयल होम स्टे IMS कालेज पास राजपुर रोड़ देहरादून में रहने लगी थी।पुलिस की सख्ती के बाद अंकित ने बताया कि निवेदिता की तबीयत खराब रहती थी।सिर में दर्द रहता था।दर्द होने के कारण चक्कर आने से 28 अप्रैल 2021 की रात 12 बजे लगभग फ्लेट से नीचे गिरने से मौत हो गई थी।पूछताछ करने पर अंकित ने कहा कि डर के कारण पुलिस को सूचना नही दी।अभियुक्त ने ये भी कहा कि उसने निवेदिता का अंतिम संस्कार कर दिया।अंकित की निशानदेही पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पता चला कि अंकित द्वारा निवेदिता मुखर्जी की बॉडी को पेट्रोल डालकर आग लगा दी और खाई से नीचे फेंक दिया।पुलिस की छानबीन करने पर निवेदिता की बॉडी के टुकड़े एकत्रित किये गए।उनकी पहचान के लिए निवेदिता मुखर्जी के परिवार को दिखाए गए तो उनकी पहचान निवेदिता के रूप में कई गई।
पुलिस की टीम में
सरिता डोभाल पुलिस अधीक्षक नगर देहरादून।
शेखर चंद सुयाल,क्षेत्राधिकारी नगर देहरादून।
जूही मनराल क्षेत्राधिकारी डालनवाला देहरादून।
रितेश शाह प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर देहरादून।
राकेश शाह थानाध्यक्ष राजपुर।
व0उ0नि0 लोकेंद्र बहुगुणा कोतवाली नगर देहरादून।
उ0नि0 योगेश चंद पाण्डेय चौकी प्रभारी जाखन।
उ0नि0 ताजबीर सिंह नेगी चौकी प्रभारी आई टी पार्क थाना राजपुर।
उ0 नि0 ज्योति प्रसाद उनियाल थाना राजपुर ।
कानि0 राकेश पंवार,कानि0 जितेंद्र , कानि0 परविंदर सिंह थाना राजपुर शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here