नैशनल एसोसिएशन फॉर पैरेंट्स एंड स्टूडेंट्स राइट्स नें जरूरत मंदो व कुष्ठ रोगियों को बांटे कम्बल और खाद्य सामग्री

0
82

नैशनल एसोसिएशन फॉर पैरेंट्स एंड स्टूडेंट्स राइट्स नें जरूरत मंदो व कुष्ठ रोगियों को बांटे कम्बल और खाद्य सामग्री

देहरादून,3 नवम्बर को दीवाली पर एनपीएसआर ने अपने पांचवे “प्रोजेक्ट मुस्कान” पर कुष्ठ रोगियों को कम्बल व जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री बांटी । एनपीएसआर के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरिफ खान ने बताया कि इस साल उनकी संस्था की ओर से इस बार लगातार पांचवे साल भी प्रोजेक्ट मुस्कान का सफल आयोजन किया गया है।

उन्होने प्रोजेक्ट मुस्कान के बारे मे बताते हुए कहा कि हर साल दीवाली पर प्रोजेक्ट मुस्कान इसलिए चलाया जाता है कि ताकि आर्थिक तंगी के कारण कोई परिवार दीवाली से वंचित न रहे और कोई भी मासूम बच्चा इस पर्व की खुशियों से महरूम न रह सके ।

खान के अनुसार वो पिछले पांच सालों से ये मुहिम चला रहे हैं और इसमे देहरादून के सामाजिक संगठनों, समाज सेवियों व बुद्धिजीवीयों का बहुत सहियोग रहता है,जो कि बढ़चढ़ कर एनपीएसआर की इस मुहिम को सफल बनाने मे भाग लेते हैं इस साल भी सभी दानदाताओं व सहियोगियों की मदद से प्रोजेक्ट मुस्कान ने बहुत अच्छी सफलता हासिल करी है ।

प्रोजेक्ट मुस्कान” की टीम ने अपना सफर रेनबो विहार नालापानी चौक से शुरू हुआ जिसका पहला पड़ाव मलिन बस्ती चुना भट्टा रायपुर रोड़ जहां सब ने बच्चों के चेहरे पर मुस्कान बांटने का प्रयास किया उसके बाद संजय कॉलोनी स्थित रफैल होम (कोढ़ी खाना) से होते हुए लक्खीबाग स्थित दरभंगा कॉलोनी पहुंची जहां पर NAPSR की टीम ने न्यो विजन संस्था के बच्चों द्वारा बनाई गई कलाकृतियों और पेंटिंग का शानदार नमूना देखा साथ ही वहां के बच्चों के नृत्य,एवं गायन का भी आनंद उठाया जिनका मनोबल NAPSR के संरक्षक सरदार जी०एस०जस्सल साहब ने इनाम देकर बढ़ाया।

“प्रोजेक्ट मुस्कान” को सफल बनाने मे अपना अमूल्य देने वालों मे NAPSR के संरक्षक सरदार जी०एस० जस्सल,राष्ट्रीय अध्यक्ष आरिफ खान,महासचिव एडवोकेट सुदेश उनियाल,फनेन्द्र मेंदी,सचिव सोमपाल सिंह, सहियोगी बीना शर्मा, श्रीमती कविता खान,अजित थापा, श्रीमती सीमा थापा,श्रीमती मनीषा जोशी सरकार,श्रीमती गोपाली,प्रवीन कुमार,अंशुमन थापा,ईशान खान,आलियाह खान,दून इंस्टीट्यूट ऑफ शूटिंग एंड स्पोर्ट्स से श्रीमती मधु मारवाह,विश्वम्भर नाथ बजाज,जितेन्द्र डंडोना व रजनीश गोकुला शामिल रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here