FeaturedNational NewsUttarakhand News

पुलिस ने किया लूट का खुलासा 6 लाख रुपए के सोना व चांदी के जेवर बरामदगी के साथ दो शातिर अभियुक्त पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर देहरादून उत्तराखंड

*कोतवाली ऋषिकेश, देहरादून*
——————-
*लगभभ छः लाख रुपये के 10(दस) तोला सोना व चांदी के जेवर की बरामदगी के साथ अवैध तमंचा मय दो कारतूस व आला नकब के साथ दो शातिर अभियुक्त घटना में प्रयुक्त अल्टो गाड़ी के गिरफ्तार*
——————
कोतवाली ऋषिकेश में शिकायतकर्ता श्री नेतराम पुत्र स्वर्गीय श्री भगतराम निवासी गली नंबर 10 अमित ग्राम गुमानीवाला ऋषिकेश के द्वारा एक शिकायती प्रार्थना पत्र दिया गया था कि उनका परिवार 26 दिसंबर 2019 को आवश्यक कार्य से बाहर गया हुआ था। दिनांक 29 दिसंबर 2019 को हम परिवारसहित वापस लौटे तो देखा कि अज्ञात चोर द्वारा दरवाजे का लॉक, अलमारी, सेफ व संदूक के ताले तोड़कर ज्वेलरी व नकद रुपए चुरा लिए गए हैं।
शिकायतकर्ता की शिकायत पर तत्काल कोतवाली ऋषिकेश में तत्काल मुकदमा अपराध संख्या 538/19 धारा 457 380 आईपीसी पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई थी।
मुकदमे के सफल अनावरण हेतु
पुलिस उप-महानिरीक्षक महोदय/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा तत्काल पुलिस टीम गठित कर मुकदमे के अनावरण व माल की शत-प्रतिशत बरामदगी हेतु आदेशित किया गया था।
जिस पर शपुलिस अधीक्षक देहात व क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महोदय के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश के द्वारा तीन पुलिस टीम (दो वर्दी, एक सादा)* गठित की गई। जिनको निम्नलिखित दिशा निर्देश दिए गए।

1- *घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की बारीकी से देखरेख करते हुए अपराधियों का पता लगाना।*

2- *घटनास्थल के आसपास संदिग्धों से पूछताछ करना।*

3- *जेल से छूटे हुए एवं पुराने चोरों का सत्यापन करते हुए उनसे पूछताछ करना।*

4- *आसपास के थानों व जनपदों से इस प्रकार की घटनाओं में संलिप्त अपराधियों के विषय में जानकारी हासिल करना।*
——————
उच्चाधिकारी गणों से प्राप्त दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए गठित पुलिस टीम द्वारा दिए गए आदेशों का पालन करते हुए

1- *घटनास्थल के आसपास लोगों से जानकारी हासिल की व पुराने चोरों का सत्यापन करते हुए आसपास के थानों के जनपदों से चोरी में संलिप्त 30 से अधिक चोरों के विषय में जानकारी हासिल की गई व उनका सत्यापन करते हुए मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया।*
2- *सीसीटीवी कैमरा को चेक करने वाली पुलिस टीम के द्वारा घटनास्थल के आसपास व वहां से बाहर जाने वाले विभिन्न दुकानों संस्थानों व घरो आदी के कैमरे चेक किए गए तो घटनास्थल के आसपास एक मारुति कार का संदिग्ध अवस्था में घूमना पाया गया।*
जिस पर प्राप्त गाड़ी की फुटेज एवं व्यक्तियों की फोटो को घटनास्थल के आसपास व पुराने चोरों को दिखा कर जानकारी हासिल की गई।
*गठित टीम द्वारा उपरोक्त मुकदमे से संबंधित व प्राप्त फुटेज के आधार पर अपराधियों की धरपकड़ हेतु जनपद हरिद्वार में तलाश कर रही थी तो मुखबिर की सूचना पर पथरी पावर हाउस वाले तिराहे के पास आने जाने वाले वाहनों के चेकिंग की गई जिस पर चेकिंग के दौरान एक सिल्वर रगं की ऑल्टो कार को रोकने के लिए इशारा किया गया जो पुलिस को देखकर पीछे करने लगा। जिस पर पुलिस टीम द्वारा तत्काल उक्त गाड़ी व उसमें बैठे हुए दो व्यक्तियों को पकड़ लिया गया। जिनसे भागने का कारण पूछा था उनके द्वारा अपने पास चोरी का सामान (जेवर आदि) होने की जानकारी दी गई।*
——————-
*गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों का नाम पता*
********************
1- *इस्तकार पुत्र इस्लाम निवासी ग्राम रोशनाबाद थाना सिडकुल जनपद हरिद्वार*

2- *इश्तियाक उर्फ मंगता पुत्र अब्दुल सत्तार निवासी ग्राम निरोज पुर थाना लक्सर जनपद हरिद्वार*
——————-
*वांछित अभियुक्त*
*****************
*साजिद पुत्र नानू निवासी मौहल्ला तेलियान थाना झबरेड़ा जनपद हरिद्वार*
(नोट- साजिद को पता लग चुका था कि ऋषिकेश पुलिस को जानकारी हो चुकी है कि मैने चोरी की है। इसलिये साजिद ने चोरी के एक पुराने मामने में अपनी जमानत तुड़वाकर रोशनाबाद जेल चला गया है। साजिद के ससुर से जानकारी प्राप्त हुई कि दिनांक 13.01.2020 को साजिद कोतवाली ज्वालापुर हरिद्वार से चोरी के एक पुराने मामले में कोर्ट में पेश होकर जेल चला गया ताकि पुलिस की गिरफ्त से बच सके।)
*अभियुक्त साजिद को जल्द ही पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिया जाएगा।*—————–
*बरामदगी का विवरण*
********************
*अभियुक्त इस्तकार से*
********************
(1) *एक हार (सोना)*
(जिसके दोनो तरफ दो कुण्डो पर सुनहरी डोरी लगी है व डोरी पर हरे व लाल नग लगे हैं, हार के साथ के दो झुमके जिनमें पांच पांच झालरे लगी हैं।)
(2) *एक कड़ा (सोना)*
(जिस पर फूल पत्ती के डिजाईन बने हैं।)
(3) *गले की एक चेन (सोना)*

(4) *तीन डिजायनदार लेडिज अंगूठियां (सोना)*

(5) *एक गोल लॉकेट (सोना)*
(जिस पर हनुमान जी का चित्र बना है व एक हुक लगा है।)
(6) *एक जोड़ी कुण्डल (सोना)*

(7) *नाक में पहनने वाली 06 लॉंग (सोना)*

(8) *एक जोड़ी पायजेब सफेद धातु*

(9) *1200/- रूपये नगद*
(10) *एक आधार (मुकदमा वादी नेतराम)*

(10) *एक तमंचा मय दो कारतूस*
——————

*अभियुक्त इश्तियाक*
******************
(1) *एक हार झालरनुमा (सोना)*
(जिसके दोनो तरफ दो कुण्डो पर महरून व गोल्डन रंग की धागे की डोरी लगी है,व डोरी पर सफेद लाल हरे छोटे मोती व लाल हरे नग लगे हैं,
2- *हार के साथ के दो झुमके जिनमें तीन तीन झालरे लगी हैं। (सोना)*

(3) *एक कड़ा (सोना)*
जिस पर फूल पत्ती के डिजाईन बने हैं।

(4) *एक गले की चेन (सोना)* (रस्सेनुमा डिजाईनदार)

(5) *तीन डिजायनदार लेडिज अंगूठियां (सोना)*

(6) *दो जोड़ी कान के कुण्डल (सोना)*
(जिनमें से एक जोड़ी में झालर लगी हैं,।)

(7) *नाक में पहनने वाली एक गोल नथ (सोना)*
(उपरोक्त सभी स्वर्ण धातु के तथा एक जोड़ी पायजेब चांदी धातु)
(7) *1000/- रूपये नगद*
(8) *आला नकब*
——————
*अपराधिक इतिहास*
*******************
अभियुक्त साजिद जनपद हरिद्वार से चोरी, लूट आदि की घटनाओं में कई बार जेल जा चुका है। जिसके विरुद्ध एक दर्जन से अधिक मुकदमे पंजीकृत हैं। जनपद हरिद्वार के अन्य थानों में व अन्य जनपदों से भी इसके अपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।
——————
*पूछताछ का विवरण*
——————-
अभियुक्त ने बताया कि मैं रोशनाबाद जनपद हरिद्वार का रहने वाला हॅू। साजिद व इस्तियाक दोनो मेरे जीजा है। साजिद पूर्व में भी कई बार हरिद्वार से चोरी व अन्य मामलों में जेल जा चुका है तथा वह चोरी करने में माहिर है। दिनांक 28/29-12-19 की रात्रि मैं, इस्तियाक व साजिद आल्टो कार नं0 UK08-AJ-3113 से चोरी करने श्यामपुर आये थे। कार को मैं ही चला रहा था। मेरे व साजिद के पास एक एक तमन्चा था जिन्हे हम चोरी करने के दौरान किसी के आने पर उन्हे डराने धमकाने के लिये इस्तेमाल करते हैं तथा इस्तियाक के पास एक रॉडनुमा औजार था जिसकी मदद से हम लोग बन्द घरों के दरवाजों व आलमारियों के ताले व लॉक तोड़ते हैं। 28.12.19 की रात्रि को भी हमने कार को बाईपास रोड़ पर सड़क किनारे सुनसान जगह पर खड़ा किया तथा मैं कार पर ही रूक गया था। कुछ देर बाद हरिद्वार की तरफ से एक साईरन बजाती हुई कार आयी जिसे मैने पुलिस की कार समझकर अपनी कार स्टार्ट कर आगे चला व डर के मारे अपने पास रखे तमन्चे व कारतूस को एक कपड़े में लपेटकर दाहिने तरफ खाली प्लाट में हल्के से फेंक दिया व थोड़ा और आगे जाकर कार वापस मोड़कर वापस वंही पर आ गया। कुछ देर बाद इस्तियाक व साजिद दोनो एक गली से होते हुये एक मकान में गये जहां से यह दोनो कुछ देर बाद चोरी कर वापस आ गये थे तथा हम तीनो वहां से हरिद्वार के लिये चले। इसके बाद हम लोग सीधे हरिद्वार चले गये थे। चोरी से प्राप्त कुछ नगदी को हम तीनो ने मौज मस्ती व खाने पीने में खर्च कर दिया था तथा ज्वैलरी को हम तीनो ने आपस में बांट दिया था। साजिद को पता लग चुका था कि ऋषिकेश पुलिस को जानकारी हो चुकी है कि हमने चोरी की है इसलिये साजिद ने अपने हिस्से का कुछ माल हमें दे दिया था, कि मैं चोरी के एक पुराने मामने में अपनी जमानत तुड़वाकर जेल जा रहा हॅू इसे बेचकर मेरी जमानत का इंतजाम कर लेना। हम दोनो के पास रखी ज्वैलरी व साजिद के द्वारा दी गयी ज्वैलरी को बेचने के लिये आज लक्सर की तरफ जा रहे थे कि आप लोगो ने हमें पकड़ लिया। साहब मैने उस दिन जो तमंचा व कारतूस झाडियों के पीछे छिपाया था। उस तमन्चे को मै आपके साथ चलकर बरामद करवा सकता हॅू।
——————
अभियुक्त गणों से मुकदमे से संबंधित बरामद माल के आधार पर 411 आईपीसी की बढ़ोतरी करते हुए *बरामद तमंचा के आधार पर आर्म्स एक्ट के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत करते हुए बरामद ऑल्टो कार को वाहन अधिनियम के अंतर्गत सीज किया गया है।*
——————
अभियुक्त गणों को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेजा जाएगा।
——————
*पुलिस टीम*
*************
प्र0नि0 श्री रितेश साह
व0उ0नि0 ओमकान्त भूषण
उ0नि0 आशीष गुसांई
का0 सन्दीप छाबड़ी
का0 नीरज कुमार
का0 कृष्ण प्रकाश
का0 मुकेश धस्माना
का0 सोनी कुमार
का0 मनोज कुमार
का0 नवनीत नेगी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button