FeaturedUttarakhand News

फेसबुक पर झांसा देकर दो लाख की ठगी करने वाला शातिर किस्म का नटवरलाल पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

पुलिस के द्वारा हिंदी मैग्जीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर देहरादून उत्तराखंड।

कोतवाली ऋषिकेश, देहरादून।*

*फेसबुक के माध्यम से झांसा देकर दो लाख की ठगी करने वाला एक व्यक्ति दिल्ली से गिरफ्तार* –

थाना ऋषिकेश पर डा0 एस0के0 डबराल नि0 433 गंगानगर गणेश विहार गली न0 02 ऋषिकेश देहरादून ने सूचना अंकित करायी कि मेरे बेटा यू0एस0 में नौकरी करता है, जिसका अभिरूप डबराल के नाम से फेसबुक एकाउन्ट है। माह फरवरी 2018 में अभिरूप डबराल की फेसबुक पर उसके एक पुराने दोस्त उदित गुप्ता के नाम से मेसेज आया जिस पर उदित गुप्ता द्वारा अपनी माता की तबियत ज्यादा खराब होना व ईलाज के लिये आर्थिक रूप से मदद हेतु दो लाख रूपये एक बैंक खाते में जमा करने के लिये लिखा गया था। अभिरूप डबराल ने इसे सत्य समझकर उसके बताये खाते में दो लाख रूपये जमा कर दिये। कुछ दिन बाद अभिरूप डबराल को पता चला कि उस व्यक्ति ने फर्जी फेसबुक एकाउन्ट बनाकर उसके साथ धोखाधड़ी की गयी है। इस पर थाना ऋषिकेश पर दिनांक 08.03.18 को मु0अ0सं0 98/2018, धारा 420 भादवि व 66 सी आई0टी0 एक्ट पंजीकृत किया गया।
अज्ञांत व्यक्ति की जानकारी कर गिरफ्तारी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के पर्यवेक्षण, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय व पुलिस क्षेत्राधिकारी महोदय के नेतृत्व में टीम गठित की गयी।
मुकदमें से सम्बन्धित फेसबुक एकाउन्ट व बैंक खाते की जानकारी की गयी, जिससे खाताधारक दिल्ली का होना पाया गया। खाताधारक व अन्य जानकारी करने पर उपरोक्त अपराध सुमित मेंहदीरत्ता नि0 फरीदाबाद के द्वारा कारित करना प्रकाश में आया। दिनांक 01.05.18 को पुलिस टीम द्वारा डी0एल0एफ0 फेस द्वितीय स्थित बिल्डिंग नं0 05 सी टॉवर गुडगांव में एक्सपिडिया ट्रैवल्स कम्पनी के प्रशसानिक कार्यालय से वहां पर कार्यरत सुमित मेहंदीरत्ता पुत्र विनोद मेंहदीरत्ता नि0 म0नं0 1482, सेक्टर 009, फरीदाबाद हरियाणा को समय 16.00 बजे गिरफ्तार किया गया। पूछताछ करने पर इसने बताया कि दिनांक 19 फरवरी 2018 को मैने ही उदित गुप्ता के नाम से अस्थाई फेसबुक एकाउन्ट बनाया था तथा वास्तविक उदित गुप्ता के दोस्तो को मां के बीमार होने पर आर्थिक मदद के नाम का मैसेज भेजा था जिसमें से अभिरूप डबराल द्वारा रिप्लाई किया व झांसे में आने पर उसके द्वारा दो लाख रूपये मेरे बताये खाते पर जमा कराये गये। अभियुक्त को माननीय न्यायालय पेश किया जायेगा।

अपराध करने का तरीका – अभियुक्त काफी सातिर किस्म का है, जिसके द्वारा किसी भी व्यक्ति की अस्थाई फर्जी फेसबुक एकाउन्ट बनाकर उसके वास्तविक दोस्तो को अपने मॉ व पिता के बीमार होने पर आर्थिक मदद करने का मैसेज भेजा जाता है, जिस पर दोस्तो द्वारा दोस्ती के नाते झांसे में आकर उसके द्वारा बताये खाते पर रूपये जमा करा दिये जाते हैं। जब उन्हे पता चलता है तो तब तक वह धोखाधड़ी का शिकार हो चुके होते हैं।

आपराधिक इतिहास – इनके आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।
नाम पता अभियुक्त – सुमित मेहंदीरत्ता पुत्र विनोद मेंहदीरत्ता नि0 म0नं0 1482, सेक्टर 009, फरीदाबाद हरियाणा

पुलिस टीम –
1- श्री प्रवीण सिंह कोश्यारी, प्रभारी निरीक्षक
2- का0 655 विकास मलिक
3- का0 823 मनोज कुमार
4- का0 665 देवेन्द्र चौधरी
5- का0 470 कमल जोशी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button