बुजुर्गों के साथ ठगी करने वाला शातिर अभियुक्त पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
1542

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन के रिपोर्टर डॉ आनंद सिंह देहरादून उत्तराखंड

थाना बसंत विहार, देहरादून

*बुजुर्गो के साथ ठगी करने वाला शातिर अभियुक्त गिरफ्तार।*

शिकायतकर्ता वृद्ध महिला श्रीमति माया सिंह पत्नी स्व0 हरस्वरुप, निवासी-849 इन्द्रानगर थाना बसंत विहार, देहरादून द्वारा चौकी इन्द्रानगर पर लिखित तहरीर दी गयी कि दिनांक- 03/11/19 को समय लगभग 12.00 बजे सुविधा मार्केट के पास दो युवको, जो सफेद स्कूटी पर थे तथा उक्त स्कूटी पर UP15 न0 की प्लेट लगी थी, ने मुझे अपनी बातों मे उलझा कर विश्वास में लेते हुये मुझे एक बन्द दुकान के पास ले गए तथा मेरे हाथों की दो सोने की चूडियां, उनका साईज बडा करने की बात कहते हुये ले लिए और मौके से फरार हो गये। शिकायत कर्ता द्वारा दी गयी तहरीर पर तत्काल अभियोग पंजीकृत किया गया।
इसी प्रकार दिनांक 11/11/19 को वरिष्ठ नागरिक जे0पी0जैन निवासी-309 चमनविहार, निरंजनपुर, थाना पटेलनगर देहरादून द्वारा चौकी इन्द्रानगर पर शिकायत दर्ज करायी की GMS रोड पर दो लडको द्वारा उनकी स्कूटी का पीछा कर उन्हें आवाज लगाते हुये रोक लिया तथा मुझसे अपनी जान पहचान निकालते हुये ने कहा कि मैं आपके आशीर्वाद से धनवान व्यक्ति बन गया हुं और अपनी दुकान के मुहुर्त मे आंमत्रित करते हुए मुझे एक गिफ्ट के रुप मे मोबाईल देने की बात कहते हुये मुझसे हाथ मिलाया। इस दौरान मेरे हाथ में पहनी सोने की अँगूठी देखते हुये उन्होंने मुझसे कहा कि मैं इसे आपको बडी बनाकर दूंगा, आप मेरे साथ-साथ आ जाओ। मै उनके पीछे-पीछे जाने लगा तो वह अपनी स्कूटी भगाकर फरार हो गये। शिकायतकर्ता की तहरीर के आधार पर थाना बसंत विहार पर अभियोग पंजीकृत किया गया।
बुजुर्ग नागरिकों के साथ हुई उपरोक्त दोनो घटनाओ की गंभीरता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशानुसार उक्त घटनाओ के सफल अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्राधिकारी नगर के पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष बसन्त विहार द्वारा थाना स्तर पर एक टीम गठित की गयी। गठित टीम द्वारा घटनास्थल के आस-पास उपस्थित लोगों से पूछताछ करते हुये अज्ञात अभियुक्त गणो का हुलिया प्राप्त किया गया व जनपद-देहरादून के पूर्व में घटित हुयी ठगी की घटना में गिरफ्तार अभियुक्त गणों के सत्यापन की कार्यवाही करते हुए घटना के दिन व उससे पूर्व होटलो में ठहरे संदिग्ध लोगो की फोटो आई0डी0 की जानकारी करते हुए लाभप्रद सूचना प्राप्त करने का प्रयास किया गया।
टीम द्वारा किये गये अपने अथक प्रयासो के फलस्वरुप पुलिस को जानकारी प्राप्त हुयी की उक्त घटनाओं को अंजाम देने वाले अभियुक्तगण शातिर किस्म के ठग है, जो मेरठ के थाना इंचोली क्षेत्र के रहने वाले हैं। वह प्रत्येक शनिवार को अपनी स्कूटी JUPITER संख्या- UP15CU-0768 से देहरादून आते है तथा पूर्व में भी विभिन्न तिथियो पर कोतवाली क्षेत्र के होटल शिवा पैलेस मे करीब 7-8 बार आकर रुके थे, जहां पर इनके द्वारा अपनी फोटो व आई0डी0 देते हुये कमरा किराये पर लिया गया। होटल छोडने के बाद दोपहर के समय घटना कर सांय के समय वह अपने कपडे बदलकर सीधे मेरठ चले जाते थे। उच्चाधिकारी गणो के आदेश पर थानाध्यक्ष बसन्त विहार के निर्देशन में एक पुलिस टीम को जनपद मेरठ रवाना किया गया। जिनके द्वारा अभियुक्त गणो का पीछा करते हुये सटीक सूचना के आधार पर मेरठ क्षेत्र से मुख्य अभियुक्त मो0 वसीम पुत्र ईस्माइल निवासी- घासमण्डी कस्बा-लाबडा थाना-इंचोली, मेरठ, उ0प्र0 को स्कूटी JUPITER संख्या- UP15CU-0768 के साथ गिरफ्तार करते हुये उसके कब्जे से पूर्व की घटनाओ में धोखाधडी से प्राप्त किये सोने के कंगन व अगूंठी बरामद की गई। मौके पर अभियुक्त से पूछताछ के पश्चात उसके द्वारा बताए सह अभियुक्त मो0 अमान पुत्र सलाउद्दीन निवासी-ग्राम चोपला, कस्बा-लाबडा, थाना-इंचोली, मेरठ उ0प्र0 के घर पर पुलिस द्वारा दबिश दी तो घर से फरार होना पाया गया, जिसकी गिरफ्तारी हेतु एक टीम पुन: रवाना की गयी है। गिरफ्तार अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर विधिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

*नाम- पता अभियुक्त*

1- मो0 वसीम पुत्र ईस्माइल निवासी-घासमण्डी, कस्बा-लाबडा, थाना-इंचोली, मेरठ, उ0प्र0, उम्र-29 वर्ष।

*वांछित अभियुक्त*
1-मो0 अमान पुत्र सलाउद्दीन, निवासी-ग्राम चोपला, कस्बा-लाबडा, थाना-इंचोली, मेरठ उ0प्र0।

*बरामदगी का विवरण*
1- एक सोने का कंगन सम्बन्धित मु0अ0स0-149/19, थाना -बसन्त विहार, देहरादून।
2- एक सोने की अंगूठी सम्बन्धित मु0अ0स0-150/19 थाना-बसन्त विहार देहरादून।
3- घटना में प्रयुक्त स्कूटी JUPITER संख्या-UP15CU-0768

*पूछताछ का विवरण*

पूछताछ में अभियुक्त वसीम द्वारा बताया गया कि वह पांचवी तक ही पढा लिखा है, पढाई छूटने के बाद वह फेरी लगाने का काम करने के लिये दिल्ली चला गया था। दिल्ली मे बुजुर्ग नागरिको के साथ हो रही ठगी की घटना व अखबारों से अभियुक्तों द्वारा अपराध करने के तरीके की जानकारी हो जाने पर उसके द्वारा भी ऐसे अपराध कर जल्द पैसा कमाने के बारे में सोचा गया। वापस मेरठ लौटकर उसने, अपने पडौसी मो0 अमान पुत्र सलाउद्दीन निवासी-ग्राम चोपला कस्बा-लाबडा थाना-इंचोली मेरठ उ0प्र0 को ठगी करने के संबंध में बताते हुये अपने साथ सम्मिलित होने हेतु कहा तो उसके द्वारा बताया कि मेरी रिश्तेदारी देहरादून मे है, जहां पर काफी रिटार्यड व बुजुर्ग लोग रहते हैं, जिन्हे आसानी से ठगी का शिकार बनाया जा सकता है। प्रत्येक शनिवार को वसीम व अमान JUPITER SCOOTY UP15-CU 0768 सफेद रंग से देहरादून आकर होटल शिवा पैलेस मे रुकते थे, अगले दिन दोपहर तक बुजुर्गो की तलाश में घूमते थे, जैसे ही उन्हे कोई बुजुर्ग अकेले में सोने की अंगूठी व कंगन पहने दिखते थे, उनके पास जाकर पांव छूते हुये उनसे पुरानी जान-पहचान निकालने का प्रयास करते हुये उन्हे कहते की उनके आशीर्वाद से वह बडा आदमी बन गया है तथा उसके द्वारा अपना मोबाईल का कारोबार शुरु किया हैं, और वह उक्त बुजुर्ग व्यक्ति से अपनी दुकान का मुहुर्त करवाना चाहता है। गिफ्ट के तौर पर उन्हें मोबाईल देने की बाते कहकर अपनी बातों में उलझा लेते है तथा उनके द्वारा पहनी गयी अंगूठी अथवा कंगन को बड़ा करने की बाते कहकर उनसे उक्त अंगूठी अथवा कंगन को प्राप्त कर मौके से फरार हो जाते थे तथा मेरठ पहुंचकर बुजुर्ग व्यक्तियों से ठगी कर प्राप्त की गई ज्वेलरी को आपस में बांट लेते हैं।

*आपराधिक इतिहास*

अभियुक्त गणो के द्वारा स्कूटी में घूमघूमकर विभिन्न जनपदों में बुजुर्गे के साथ ठगी की घटना की गयी है। जिनके आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही हैं। थाना बसंत विहार पर इनके विरुद्ध निम्न अभियोग पंजीकृत हैं।
1-मु0अ0स0- 149/19 धारा- 406/420/120B IPC
2-मु0अ0स0- 150/19 धारा- 406/420/120B IPC

*गिरफ्तारी टीम*
1- श्री शेखर चन्द्र सुयाल, क्षेत्राधिकारी नगर
2- श्री नत्थी लाल उनियाल, थानाध्यक्ष बसन्त विहार
3- व0उ0नि0 नवनीत सिंह भण्डारी
4- उ0नि0 सुनील नेगी
5- उ0नि0 पंकज महिपाल
6- कानि0 शादाब अली
7- कानि0 राजीव कुमार
8- कानि0 प्रमोद SOG

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here