भारत में 3 दिन से लगातार बढ़ रहे कोरोना केस, 24 घंटे में 48878 मामले आए सामने, 900 से ज्यादा मौत

0
199

भारत में कोरोना की दूसरी लहर भले ही मंद पड़ गई हैं, लेकिन ये याद रखना होगा कोरोनाअभी गया नहीं है और तीसरी लहर का खतरा भी बरकरार है. जो लोग ये समझने रहे हैं कि कोरोना चला गया, वो बड़ी भूल कर रहे हैं. इसका सबसे बड़ा सबूत है.अचानक देश में कोरोना के मामलों में उछाल आया है.

अगर ऐसे में लापरवाहियां जारी रहीं तो ये घातक साबित हो सकती हैं. हालांकि, खतरा है फिर भी लोग मानते को तैयार नहीं. पटना के बाजारों में बुधवार को बिना मास्क और बिना सोशल डिस्टेंसिंग के लोग दिखे.पिछले तीन दिनों के अंदर देश में कोरोना के बढ़ते आंकड़े. भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से 48,878 लोग संक्रमित हुए और 991 लोगों की मौत हुई.

जबकि बुधवार को 45,951 और मंगलवार को देश में कोरोना वायरस के 37,566 नए मामले सामने आए थे.वहीं, भोपाल की सड़कों पर भी लोग कोरोना से बेफिक्र नजर आए. इस बीच हिमाचल प्रदेश में टूरिस्टों की भीड़ उमड़ पड़ी. खतरे को देखते हुए प्रशासन ने सोलन में धारा 144 लागू कर दी है. हिमाचल के नरकंडा में भी टूरिस्टों की भीड़ एकत्रित हो गई है.

यही हाल नारकंडा हिल स्टेशन का भी है.वैरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित किए जा चुके डेल्टा वैरिएंट और कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सरकार ने कुछ बातें साझा की हैं.

 

कोविड टास्क फोर्स के चीफ डॉ. वीके पॉल ने कहा, तीसरी लहर का आना या आना हमारे हाथ में है. इसमें ओवरऑल डिसिप्लिन मायने रखता है. उन्होंने कहा कि देश में मौजूद डेल्टा वैरिएंट का अप्रत्याशित व्यवहार भी महामारी की तस्वीर को बदल सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here