भू माफिया ने फर्जी दस्तावेज बनाकर बुजुर्ग दंपत्ति की संपत्ति को किया कब्जा दो आरोपी गिरफ्तार

0
1054

पुलिस के द्वारा हिंदी मैग्जीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर देहरादून उत्तराखंड

थाना क्लेमनटाऊन*
*जनपद देहरादून* *फर्जी दस्तावेज बनाकर बुजुर्ग दंपति की संपत्ति को कब्जा करने के आरोप में दो भूमाफिया गिरफ्तार*

दिनांक 29.07.18 सुरजीत सिंह पुत्र बलवंत सिंह निवासी रायपुर- 92 ए अपर रायपुर देहरादून ने थाने पर एक लिखित तहरीर दी कि मेरे द्वारा दिनांक 03-01-2001 में आदर्श कालोनी सुभाषनगर में भूमि खसरा नंबर 719 मि0 रकबा 307 वर्ग मीटर मौजा माजरा परगना केंद्रीय दून देहरादून असीम व संदीप पुत्र जे0सी0 दास निवासी 45 SBI कॉलोनी GT रोड दिल्ली से खरीदी थी| उक्त भूमि पर वर्तमान में मेरा कब्जा है| उक्त भूमि पर मेरे द्वारा ईटों की चारदीवारी कर गेट पर अपना ताला लगा रखा था| आज जब मैं अपनी भूमि पर आया तो देखा कि दो व्यक्तियों नरेंद्र सिंह व लोकेश कुमार ने गेट के बाहर खंभे पर अपना मीटर लगाकर मेरे प्लॉट के अंदर रेत, बजरी आदि निर्माण सामग्री रखी थी व चारदीवारी के गेटों पर अपने नाम की नेम प्लेट लगा रखी है| मेरे द्वारा उन्हें कहा गया कि यह प्लॉट मेरा है तो उन्होंने मुझे प्लॉट की दो रजिस्ट्रियां दिखाई साथ ही एक शपथ पत्र जिसके आधार पर इन दोनों द्वारा बिजली मीटर लगाए गए थे| इनके द्वारा बताया गया कि हमने यह प्लॉट नरेंद्र मित्तल से वर्ष 2003 में खरीदा है| जब मेरे द्वारा बताया गया कि मेरे द्वारा यह प्लॉट वर्ष 2001 में खरीदा गया है व प्लॉट पर मेरा कब्जा है इस बात को लेकर इनके द्वारा मेरे साथ गाली गलौज व जान से मारने की धमकी दी| नरेंद्र सिंह व लोकेश द्वारा फर्जी रजिस्ट्री बनाकर मेरे प्लॉट के गेट का ताला तोड़कर गेट के बाहर खंभे पर अपने बिजली का मीटर लगाकर मेरी भूमि हड़पने के लिये कब्जा करना चाहते हैं| वादी सुरजीत सिंह की तहरीर के आधार पर थाना क्लेमेंटटाउन पर मु0अ0सं0 102/18 धारा- 420/467/468 /471/447/120बी/ 504/ 506 आईपीसी बनाम नरेंद्र सिंह व लोकेश कुमार पंजीकृत किया गया है|

*विवेचना* उक्त प्रकरण में विवेचना की गई तो विवेचना के दौरान साक्ष्य संकलन में पाया गया कि नरेंद्र एवं लोकेश राठी मूल रूप से मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं एवं सुभाष नगर में नरेंद्र, प्रवीण के मकान पर किराए पर रह रहा है। प्रवीण के मकान के बाउंड्री से लगा हुआ सुरजीत सिंह का प्लॉट है। कई दिनों तक जब उन्होंने देखा कि प्लाट पर कोई नहीं आ रहा है तो इनके मन में लालच आ गया। उन्होंने सोचा क्यों ना इस प्लाट को कब्जा किया जाए। दोनों ने आपसी षड्यंत्र कर प्रवीण की मर्जी के बिना रजिस्ट्रार ऑफिस से प्रवीण कि वह रजिस्ट्री निकाली जो नरेंद्र मित्तल ने 2001 में प्रवीण को दी थी। उस रजिस्ट्री की फोटोकॉपी से क्रेता के सामने जो प्रवीण का नाम अंकित था, वहां पर एक सेट पर लोकेश राठी का नाम पता एवं दूसरे सेट पर नरेंद्र का नाम पता कूटरचित किया एवं उक्त रजिस्ट्रियों की फोटो कॉपी कर विद्युत विभाग में लोकेश ने इस आशय से दिया कि यह जमीन मेरी है एवं विद्युत विभाग वालों द्वारा भी बिना पड़ताल किए लोकेश को कनेक्शन दे दिया गया। जब उन्हें लगा कि अब तो हमारा कनेक्शन भी हो गया इन्होंने सुरजीत की बाउंड्री तोड़कर दीवार तोड़कर अपनी निर्माण सामग्री अंदर डाल दी। दोनों को जब पुलिस ने बुलाया तो दोनों पहले कहते रहे कि साहब यह जमीन हमने नरेंद्र मित्तल से खरीदी है और यह हमारे कागजात हैं। दोनों ने पुलिस के सामने अपने कागजात प्रस्तुत कर छाया प्रति कागजात दिखाएं एवं बताया कि असली कागजात गांव में है, दो-चार दिन का समय दे दो। लेकिन जब छायाप्रति कागजातों को गहनता से अवलोकन किया तो दोनों रजिस्ट्रियों में एक ही क्रमांक अंकित था, जिससे पुलिस को पुख्ता साक्ष्य मिल गया एवं तुरंत नरेंद्र मित्तल को थाने बुलाया गया, जिसने इस बात की पुष्टि की कि मैंने इन दोनों को कभी कोई जमीन नहीं बेची। इस पर पुलिस टीम को इन पर पूरा शक हो गया कि इन लोगों के द्वारा झूठी रजिस्ट्री के दस्तावेज तैयार किए गए हैं। तत्पश्चात सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल लिया एवं कहा कि उक्त प्लॉट पर कई समय से कोई व्यक्ति नहीं आया था हमने सोचा यह किसी बाहर वाले की या किसी बड़े आदमी की जमीन होगी, जिसको शायद यह ध्यान नहीं होगा कि मेरी जमीन यहां है इसीलिए हमने इस प्लॉट पर कब्जा कर दिया था। विवेचना के दौरान मिले उपरोक्त साक्ष्यों के आधार पर आज दिनांक- 31-07-18 को अभियुक्त नरेंद्र सिंह व लोकेश कुमार उर्फ टीटू प्रधान को आदर्श कॉलोनी गायत्री मार्ग सुभाषनगर से अन्तर्गत धारा 420/467/468/471/447/ 120बी/504/ 506 आईपीसी गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त गणों को कल समय से न्यायालय पेश किया जाएगा व अभियुक्तगणों द्वारा वादी की बाउंड्री में लगी नेम प्लेटों को कब्जे पुलिस लिया गया है|

*नाम पता अभियक्तगण*
1- नरेंद्र सिंह पुत्र किरण सिंह निवासी ग्राम व पो0-भैंसी थाना खतौली जनपद मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश हॉल किरायेदार प्रवीण कुमार म0नं0-914 आदर्श कॉलोनी गायत्री मार्ग सुभाषनगर थाना क्लेमेंटटाउन देहरादून उम्र- 52 वर्ष

2- लोकेश कुमार उर्फ टीटू प्रधान पुत्र बिजेंद्र सिंह निवासी ग्राम दुधाहेड़ी थाना मंसूरपुर जनपद मुजफ्फरनगर उ0 प्र0 उम्र- 40 वर्ष।
अभियुक्त लोकेश मुजफ्फरनगर में राजनीति में भी सक्रिय है।
*बरामदगी*
1- दो नेम प्लेट फर्जी

*आपराधिक इतिहास*
मु0अ0सं0-102/18 धारा-420/467/468/471/ 447/120 बी/504/506 भा0द0वि0
अन्य अपराधिक इतिहास के संबंध में जानकारी की जा रही है|

*पुलिस टीम*
S0 दिलबर सिंह नेगी
उ0नि0 कोमल रावत
उ0नि0 ओमवीर सिंह
का0 1204 रणवीर
का0 114 संजय कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here