FeaturedUttarakhand News

महिला बस का इंतजार कर रही थी पुरानी चुंगी बाईपास के पास हुई दर्दनाक घटना क्या हुआ महिला के साथ पूरी ख़बर पढ़ें

पुलिस के द्वारा हिंदी मैग्जीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर देहरादून उत्तराखंड।

थाना नेहरूकालोनी*

दिनांक 21/05/2018 को वादिनी सरिता भट्ट पत्नी श्री जितेन्द्र भटट् निवासी 133 गुमानीवाला थाना ऋषिकेश द्वारा थाना नेहरूकालोनी पर सूचना अकिंत करायी कि जब वह नेपाली फार्म जाने के लिये पुरानी चुंगी बाईपास चौकी के पास बस का इन्तजार कर रही थी। तो एक आदमी मेरे साथ खडा हो गया और उसके द्वारा भी मुझे अपनी बातों में लेकर कहा कि उसे भी हरिद्वार जाना है। और वह भी बस का इंतजार कर रहा है। कुछ समय पश्चात एक व्यक्ति और कार लेकर हमारे पास आया व उसने बताया कि वह हरिद्वार जा रहा है। इस पर हम दोनों उस कार में बैठ गये तथा कार चालक द्वारा बताया कि वह समाज कल्याण विभाग में कार्य करता है। तथा यह सरकारी गाडी है इसकी मशीन से चैकिंग होनी है इसलिये आप अपना कीमती समान व पैसे अपने बैग में रख ले आगे चैकिंग होगी। चालक व साथ बैठे व्यक्ति की बातों में आकर मेरे द्वारा पहनी गले की चैन व 12 हजार रूपये अपने बैग में रख लिये। कुछ देर बाद जैसे ही हम सोलेटेयर होटल के पास पहँचे तो चालक व साथ बैठे व्यक्ति ने कहा कि हम अपना बैग मशीन में चैक कराकर आते तथा वह दोनों कार से उतरकर कुछ देर के लिये चल गये। थोडी देर बाद उन्होंने मुझे भी कहाँ अब आपका बैंग भी मशीन से चैक कराना है। आप यहाँ पर हमारा इंतजार करो। हम आपका बैग चैक करा कर आते है। यह बोलकर दोनों व्यक्ति कार में बैठकर चले गये। कुछ देर बाद मुझे पता चला कि मेरे साथ ठगी हो गई है। उक्त सूचना पर मेरे द्वारा थाना नेहरूकालोनी पर मु0अ0स0 140/18 धारा 420 भादवि का अभियोग पंजीकृत कराया गया।
उक्त घटना की संवेदनशीलता को देखने हुये श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदया द्वारा उक्त घटना की शीघ्र अनावरण करने हेतु निर्देशित किया गया तथा घटनास्थल पर श्रीमान पुलिस अधीक्षक नगर महोदय द्वारा पँहुचकर उचित दिशा-निर्देश दिये गये। श्रीमान क्षेत्राधिकारी महोदय द्वारा घटना के अनावरण हेतु टीम गठित की गई तथा गठित टीम द्वारा घटनास्थल पर लगे व आस-पास की सभी सी.सी.टी.वी. कैमरों से ठगों की कार की तलाश व हुलिये की पहचान के प्रयास किये गये काफी प्रयास करने के उपरान्त ज्ञात हुआ कि घटना में शामिल कार दिल्ली नम्बर DL 5CB 5126 है। उक्त कार की तलाश हेतु एक टीम को दिल्ली रवाना किया गया। दिल्ली पँहुचकर पता चला कि उक्त कार नसीम के नाम के व्यक्ति के नाम पंजीकृत है। नसीम के पते पर तलाश की तो उक्त पते पर नसीम का किराये पर रहना पाया गया, आस पडोस के व्यक्तियों/ मकान मालिक से वाहन मालिक के सम्बन्ध में पूछताछ की गई तो वाहन मालिक नसीम का मोबाइल नम्बर ज्ञात हुआ। उक्त नम्बर की सी.डी.आर निकाली गयी परन्तु उसका घटना वाले दिन देहरादून में होना नही पाया गया। वाहन मालिक से बात की गई तो उसके द्वारा बताया गया कि उसने उक्त कार अक्टूबर 2017 में देहरादून निवासी आबिद जलील को बेच दी है। जो कि वर्तमान में आरकेडिया ग्रांट बसन्तविहार में रहता है। उक्त सूचना प्राप्त होने पर तत्काल आरकेडिया ग्रांट में दबिश दी गई तो वहाँ से पता चला कि अब्दुल जलील द्वारा भी उक्त कार मौह्म्द हारून पुत्र लाल्ला निवासी ग्राम सकानू थाना अलापुर जिला बदायू उ0प्र0 को बचे दी है। मौहम्मद हारून का मोबाइल नम्बर प्राप्त कर उसकी तलाश प्रारम्भ की गई।
दिनांक 12/06/2018 को मुखबिर द्वारा सुचना दी गई कि दिनांक 21/05/2018 को ठगी करने वाले दोनों व्यक्ति आज फिर किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में है व कारगी चौक से पुरानी बाईपास के मध्य घूम रहे है। उक्त सूचना पर पुरानी बाईपास चौकी से मय पुलिस फोर्स के चेकिंग प्रारंभ कर दी गई। चेकिंग के दौरान कारगी चौक की तरफ से उक्त सेंट्रो कार नंबर DL 5 CB 5126 आती दिखाई दी। जिसे रोककर पूछताछ की गई तो उक्त कार में बैठे दोनों व्यक्तियों ने दिनांक 21/05/18 को की गई ठगी की घटना की स्वीकारोक्ति की गई। मौके पर वादिनी श्रीमती सरिता भट्ट को बुलाया गया। वादिनी द्वारा मौके पर आकर दोनों अभियुक्तों की पहचान की व अभियुक्तों के कब्जे से बरामद सोने की चेन को खुद का होना बताया। दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर थाने लाया गया। अभियुक्तों को आज माननीय न्यायालय में पेश किया जाएगा।

*नाम पता अभियुक्त :-*

1- मोहम्मद हारुन पुत्र फैज मोहम्मद निवासी ग्राम सकानू थाना अलापुर, जिला बदायूं, उत्तर प्रदेश हाल गोरखपुर चौक, आर्केडिया ग्रांट, थाना वसंत विहार, देहरादून, उम्र 49 वर्ष।
2- वली मोहम्मद उर्फ लल्ला पुत्र लाल खाँ, निवासी ग्राम सकानू थाना अलापुर जिला बदायूं उत्तर प्रदेश हाल गोरखपुर चौक, आर्केडिया ग्रांट, थाना बसंत विहार, उम्र 40 वर्ष,

*बरामदगी :-*

1- ठगी की गयी सोने की चेन – 1
2- 2300/- रुपए
3- कार सेंट्रो DL 5CB 5126

*अपराध करने का तरीका :-*

अभियुक्तों द्वारा बस स्टैंड पर वाहन का इंतजार करने वाले व्यक्तियों/महिलाओं को लिफ्ट देकर उनको अपनी बातों में बहला-फुसलाकर उनके जेवर/नगदी की ठगी करना।

*अपराधिक इतिहास :-*

अभियुक्तों के मूल निवास से अपराधिक इतिहास के संबंध में जानकारी की जा रही है।

*पुलिस टीम :-*

1- श्रीमती जया बलूनी, क्षेत्राधिकारी डालनवाला
2- श्री राजेश साह, प्रभारी निरीक्षक नेहरू कॉलोनी
3- उप निरीक्षक राकेश शाह, व0उ0नि0 नेहरुकोलोनी
4- उप निरीक्षक योगेश पांडे चौकी प्रभारी बाईपास
5- उपनिरीक्षक कमलेश शर्मा, चौकी प्रभारी नेहरू कॉलोनी
6- कांस्टेबल गंभीर सिंह
7- कांस्टेबल मनोहर
8- कांस्टेबल मनमोहन
9- कांस्टेबल आशीष शर्मा, एसओजी
10- कांस्टेबल प्रमोद, एसओजी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button