National NewsUttarakhand News

माल रोड व अन्य क्षेत्रों में लग रहा है जाम प्रशासन नहीं कर पा रहा है व्यवस्था में सुधार पर्यटन सीजन आते ही लग जाते हैं जाम

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन के रिपोर्टर सुमित कुमार कंसल व हरपाल खत्री मसूरी देहरादून उत्तराखंड

मसूरी में मालरोड व अन्य क्षेत्रों में लग रहा जाम प्रशासन नही कर पा रहा व्यवस्था में सुधार

मसूरी। पर्यटन सीजन आते ही मालरोड सहित लंढौर क्षेत्र में जाम लगने से जनता व पर्यटकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन पुलिस की व्यवस्था कहीं नजर नहीं आ रही है।
पर्यटन सीजन शुरू होते ही मसूरी में जाम का झाम शुरू हो गया है। लेकिन व्यवस्था के नाम पर अभी तक प्रशासन की कोई व्यवस्था नजर नहीं आ रही है। हालात यह है कि एक दिन की छुटटी पड़ते ही जाम लग जाता है। और आम जनता व पर्यटकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पहाड़ों की रानी मसूरी में जाम लगना आम बात हो गया है। एक ओर पार्किंग की कमी होने के साथ ही दूसरी ओर मालरोड पर वाहनों की भारी संख्या में आवाजाही से अब मालरोड किसी हाइवे से कम नहीं लगता। पहले तो नगर पालिका केवल सीजन के दौरान मालरोड प्रतिबंधित करती थी तब यहां वाहन ना के बराबर होते थे, लेकिन अब तो मसूरी के ही दुपहिया व चार पहिया वाहनों की संख्या हजारों में है और हर आदमी मालरोड पर वाहनों से जाना चाहता है। जिसके लिए पालिका पास बनाती है। लेकिन कई ऐसे लोग भी हैं जो कभी पास नहीं बनवाते वे अपने रौब या अहमियत से मालरोड को रौंदते रहते हैं। अवकाश के दिन तो बहुत बुरा हाल होता है। वहीं मालरोड पर स्थानीय वाहनों व सामान ढोने वाले वाहनों के चलते जाम लग जाता है लेकिन अभी तक पुलिस की व्यवस्था नहीं हो पायी है। पालिका प्रशासन भी आचार संहिता के चलते मालरोड पर सीजनल गार्डों की व्यवस्था भी नहीं हो पाई है। सोमवार को मालरोड पर जाम लग गया तो पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता की गाड़ी भी जाम में फंस गई जब काॅफी देर तक जाम नहीं खुला तो उन्होंने स्वयं उतर कर जाम खुलवाने में मदद की। यहीं हाल लंढौर गुरूद्वारा चैक से मलिगार तक की है यहंा तो आये दिन ही जाम लगा रहता है। स्थानीय निवासियों व व्यवसायियों को कहना है कि यहंा पहले ही पर्यटक नही आता वहीं जो स्थानीय दुकानदारी होती है वह भी जाम के कारण ग्राहक ुदकान में नहीं घुस पाता व आगे निकल जाता है। क्षेत्र वासियों का कहना है कि मलिंगार से घंटाघर तक एक मार्गीय यातायात शुरू किया जाना चाहिए तो कि बाटाघाट, बाईपास से डाइवर्ट किया जाना चाहिए। अगर मालरोड की व्यवस्थाओं में सुधार नहीं किया गया तो आने वाले सीजन मे भारी परेशानियों का सामना करना पडे़गा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button