FeaturedNational NewsUttarakhand News

विलासिता छोड़ो, प्रकृति की ओर लौटो पदम भूषण डॉ अनिल जोशी

इलम सिंह चौहान संवादाता पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन

*विलासिता छोड़ो, प्रकृति की ओर लौटो- पद्मभूषण डॉ अनिल जोशी*

देहरादून जिले के विकासनगर क्षेत्र से कोविड 19 जागरूकता अभियान के तहत क्रीड़ा भारती उत्तराखंड एवं डॉ राजकुमारी चौहान वीर शहीद केसरी चंद्र राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डाकपत्थर द्वारा वेबीनार का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पदम भूषण डॉ अनिल प्रकाश जोशी ने छात्रों एवं प्राध्यापकों को संबोधित करते हुए कहा है कि पर्यावरण असंतुलन के कारण विभिन्न प्रकार के रोग एवं प्रकृति में असामान्य गतिविधियां होने लगती है, जिसका प्रकोप हम सब लोग विगत कुछ माह से महसूस कर रहे हैं। उन्होंने करोना वायरस महामारी से उभरने के लिए प्रकृति के संरक्षण व संवर्धन की बात कही। डॉ जोशी ने कहा कि हमें अपनी विलासिता पर अंकुश लगाने की आवश्यकता है आज आवश्यकता है प्रकृति की ओर उन्हें लौटने की। उन्होंने छात्र-छात्राओं द्वारा पूछे गए विभिन्न सवालों के भी उत्तर दिए।
इस अवसर पर उच्च शिक्षा के पूर्व उप निदेशक डॉ के एल बिष्ट ने कहा कि ऐसे समय जब संपूर्ण विश्व एक महामारी की चपेट में है तब छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन क्लास एवं ऑनलाइन जागरूकता एक अच्छी पहल है। उन्होंने छात्रों की कैरियर काउंसलिंग करते हुए कहा है कि जीवन में सफलता पाने के लिए कोई लघुतम मार्ग नहीं होता उसके लिए परिश्रम अत्यंत आवश्यक है।
वरिष्ठ चिकित्सक डॉ वीरेंद्र चौहान ने छात्र-छात्राओं द्वारा पूछे गए स्वास्थ्य संबंधित विभिन्न सवालों के उत्तर दिए।
इस अवसर पर डाकपत्थर, थत्युर, लमगांव , रानीखेत उत्तरकाशी, कोटद्वार, सोनभद्र उत्तर प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालयों के छात्र एवं प्राध्यापक गणों ने इस वेबीनार में प्रतिभाग किया।
इस अवसर पर वेबीनार की समन्वयक डॉ राजकुमारी भंडारी चौहान ने कहा है कि प्रत्येक रविवार को किसी ना किसी महत्वपूर्ण विषय पर छात्र-छात्राओं को जागरूक करने के लिए विभिन्न आयोजन किए जा रहे हैं जिससे देशभर के छात्र इससे लाभान्वित हुए हैं।ऑर्गनाजिंग समिति की डॉ संगीता कैंतूरा, डॉ माधुरी रावत ने भी छात्र-छात्राओं के विभिन्न सवालों के उत्तर दिए।
इस अवसर पर डॉ ममता, डॉ आबिदा , डॉ अजय कुमार, डॉ संदीप कश्यप, डॉ सरिता चौहान, डॉ सुनैना रावत, डॉ हेमेंद्र, आदि सहित अनेक प्राध्यापकगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button