FeaturedNirankari News

विशाल महिला संत निरंकारी समागम ऋषि कुल ग्राउंड हरिद्वार

नारी शक्ति और नारी सशक्तिकरण को उजागर कर रहा है संत निरंकारी महिला सत्संग हरिद्वार 29 मार्च संत निरंकारी मिशन जहां पूरी मानवता की एकता एवं समानता का परिचय पूरे संसार में लहरा रहा है वही नारी शक्ति को भी स्त्री पुरुष समानता के आधार पर उसके आदर्श रूप में प्रकट होने का शुभ अवसर प्रदान कर रहा है सद्गुरु दिल्ली से आई परम पूज्य बहन संत निर्मल चंदा जी ने सद्गुरु माता सविंदर हरदेव जी महाराज के पावन संदेश में अपने विचारों में कहा कि ईश्वर सर्वव्यापक है और जानने योग्य है ईश्वर को जानकर ही हमारी भक्ति साकार होती है जब तक हमारे जीवन में परमात्मा नहीं आता है तब तक भक्ति अधूरी है क्योंकि जब तक हमारे जीवन में कोई आया ही नहीं तो भक्ति किसकी जब तक इस सर्वव्यापक परम तत्व को इंसान सद्गुरु से जान नहीं लेता जब तक सद्गुरु की कृपा नहीं होती तब तक भक्ति नहीं हो सकती उक्त उद्गार हरिद्वार स्थित ऋषि कुल मैदान में आयोजित विशाल महिला संत समागम को संबोधित करते हुए पूज्य बहन संत निर्मल चंदा जी ने व्यक्त किए संत निरंकारी मंडल मसूरी जॉन की ओर से आयोजित इस निरंकारी महिला संत समागम में बहन निर्मल चंदा जी ने जल जीवन अभियान का समर्थन करते हुए सभी से इस परम पुनीत मुहिम के साथ जुड़ने का आह्वान किया इस निरंकारी महिला संत समागम में लगभग 6000 से अधिक महिलाओं ने जल बचाने का संकल्प लिया और अभियान में शामिल टीम ने उपस्थित महिलाओं को पानी बचाने की महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की इस अभियान की टीम ने परम पूज्य बहन निर्मल चंदा जी को जेल प्रहरी सम्मान से सम्मानित किया गया जल बचाओ अभियान में शामिल अभियान के प्रमुख प्रदीप गर्ग ललित गोयल हेमा भंडारी विशाल गर्ग ईशान सौरभ आदि ने इस अभियान की जानकारी दी ज्ञान प्रचारक परम पूज्य बहन सविंदर कौर जी ने इस अभियान से जुड़कर सभी को पानी बचाने का संकल्प दिलाया मसूरी जॉन के जोनल इंचार्ज परम पूज्य संत हरभजन सिंह जी मेयर मनोज गर्ग जी और पार्षद राजेश शर्मा जी रमन सिंधी जगदीश लाल पावा चंद्रकांता अनिल पूरी सपना जी रोहतास बृजपाल सुरेश कनौजिया सुरेश चावला भूपेंद्र सैनी गंभीर सिंह आदि उपस्थित रहे
पुलिस के द्वारा हिंदी मैग्जीन के मीडिया प्रभारी नरेंद्र कुमार राठौर व ईलम सिहं चौहान देहरादून उत्तराखंड।।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button