FeaturedNational NewsUttarakhand News

सहसपुर के खुशहालपुर में कांग्रेस पार्टी की जनसभा के दौरान पार्टी में दिखी गुटबाजी पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह दिखे नाखुश

UK/ सहसपुर
इलम सिंह चौहान की रिपोर्ट।                                      सहसपुर के खुशहालपुर में कांग्रेस पार्टी की जनसभा के दौरान पार्टी में दिखी गुटबाजी, पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह दिखे नाखुश देहरादून जनपद के सहसपुर विधानसभा क्षेत्र के खुशहालपुर ग्राम सभा में आयोजित कांग्रेस कार्यकर्ता बैठक व जनसभा में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे ! इस मौके पर उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 2022 में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने जा रही है और इसी के साथ सहसपुर विधानसभा सीट जो पिछले 15 सालों से वनवास झेल रही! उस बनवास को खत्म करने के लिए कांग्रेस के एक-एक कार्यकर्ता का का दायित्व बनता है कि पूरे दमखम से सहसपुर विधानसभा से भी इस बार कंधे से कंधा मिलाकर पार्टी को जिताने का काम करें ! हालांकि कार्यकर्ताओं की बैठक व जनसभा आयोजित होने से पहले ही पार्टी के अंदर गुटबाजी देखने भी को मिली।

कार्यक्रम आयोजित होने से पहले ही पार्टी के कई दिग्गज नेता अपनेसमर्थको के साथ कार्यक्रम को छोड़कर चले गए। जहां एक और प्रदेश अध्यक्ष लगातार कांग्रेस की वापसी को लेकर प्रयासरत है वही सहसपुर विधानसभा में ऐसे हालात होने से आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को फिर एक बार हार का मुँह भी देखना पड़ सकता है! क्योंकि पार्टी के अंदर का भितरघात खत्म होने का नाम नहीं ले रहा! वहीं पार्टी से खुद के ही स्थानीय दिग्गज नेता जहां एक तरफ नाराजगी जाहिर कर रहे हैं तो ऐसे में कांग्रेस पार्टी के लिए आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है! जबकि आगामी विधानसभा चुनाव में महज कुछ समय बचा हुआ है और पार्टी एकजुट होने की बजाय बिखरती दिख रही है ।जिसका फायदा सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी एवं अन्य पार्टी को मिल सकता है। बताते चलें कि बैकड्राप बैनर पर लगी तस्वीर के कारण स्थानीय नेताओं ने नाराजगी व्यक्त की और कहा कि जो व्यक्ति दो बार विधानसभा सहसपुर से कांग्रेस पार्टी को हार का मुंह दिखा चुका है

ऐसा व्यक्ति हमें अस्वीकार है बैकड्राप पर किसी स्थानीय नेता का फोटो नहीं होने के कारण तीन दिग्गज नेता समर्थकों के साथ कार्यक्रम छोड़कर चले गए। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष ने बैकड्राप बैनर पर लगी फोटो से नाराज नेताओं को लेकर कहा कि स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ताओं द्वारा बैनर बनाया गया और कार्यक्रम किया गया यदि कोई बैठक में नहीं आया तो यह उनका अंदरूनी मामला हो सकता है लेकिन काग्रेस पार्टी एकजुट होकर कार्य कर रही है और 2022 चुनाव में प्रचंड बहुमत से वापसी कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button