हरिद्वार, महाशिवरात्रि के पर्व पर पहला शाही स्नान, हर की पौड़ी पर श्रद्धालुओं का हुजूम

0
245

महाशिवरात्रि के दिन आज हरिद्वार में महाकुंभ का पहला शाही स्नान है, इसलिए आज जूना अखाड़ा, आह्वान अखाड़ा, अग्नि अखाड़ा और किन्नर अखाड़ा करीब 11 बजे हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर स्नान करने के लिए पहुचेंगे. इसके बाद निरंजनी अखाड़ा और आनंद अखाड़ा करीब 1 बजे हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर स्नान करेंगे. इसके बाद महानिर्वाणी अखाड़ा और अटल अखाड़ा करीब 4 बजे हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर स्नान करेंगे.नागा-साधुओं के शाही स्नान के लिए आगमन को देखते हुए सुबह 7 बजे तक ही आम श्रद्धालुओं को स्नान करने दिया जाएगा. 7 बजे के बाद हर की पौड़ी क्षेत्र को खाली करवा लिया जाएगा, इसके बाद घाटों की सफाई की जाएगी. इसके बाद यात्री और श्रद्धालुओं के आगमन पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा.सुरक्षा व्यवस्था में किसी तरह की कोताही न हो, इसके लिए पुलिस पूरी तरह से तैयार है. इसके लिए प्रत्येक जोन में प्रभारी अधिकारी के रूप में अपर पुलिस अधीक्षक और सेक्टरों में पुलिस उपाधीक्षक को नियुक्त किया गया है.महाकुंभ के शाही स्नान को देखते हुए सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए हैं. सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने हेतु संपूर्ण मेला क्षेत्र को 3 सुपर जोन, 9 जोन और 25 सेक्टरों (1 जीआरपी तथा 1 यातायात के सेक्टर सहित) में बांटकर पुलिस बलों की ड्यूटी लगाई जा चुकी है.


1. प्रथम जोन: हर की पैड़ी.
2. द्वितीय जोन: गौरीशंकर.
3. तृतीय जोन: ऋषिकेश.
प्रथम जोन: दक्ष मंदिर कनखल से वाल्मीकि चौक तक.
प्रथम सेक्टर: दक्ष मंदिर से शंकराचार्य चौक तक.
द्वितीय सेक्टर: शंकराचार्य चौक से वाल्मीकि चौक तक.

द्वितीय जोन: वाल्मीकि चौक से भूपतवाला बेरियर तक.
तृतीय सेक्टर: वलम चौक से मंशा देवी रज्जू मार्ग तक.
चतुर्थ सेक्टर: मंशा देवी रज्जू मार्ग से भूपतवाला बेरियर तक.
मुख्य यातायात व्यवस्था के अलावा 9 आपातकालीन यातायात योजनाएं भी बनाई गई हैं, जिन्हें परिस्थितियों के अनुसार अमल में लाया जाएगा. इसके अलावा किसी भी तरह की आकस्मिक स्थिति आने पर तात्कालिक रूप से सहायता पहुंचाने के लिए निर्धारित मार्गों से अलग 8 प्रशासनिक मार्गों का भी चयन किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here