FeaturedUttarakhand News

लंढौर के सर्वे स्टेट में रोजगार हेतु केद्र व राज्य सरकार संस्थान खोलने को लेकर ज्ञापन दिया।

लंढौर के सर्वे स्टेट में रोजगार हेतु केद्र व राज्य सरकार संस्थान खोलने को लेकर ज्ञापन दिया।

मसूरी। मसूरी ट्रेड्स एंड वेलफेयर एसोसिएशन ने एसडीएम को ज्ञापन देकर मांग की है कि लंढौर बाजार की पिछड़ती आर्थिक स्थिति में सुधार करने हेतु सर्वे ऑफ इंडिया की खाली पड़ी संपत्ति रोजगार के ऐसे साधन खोले जायं ताकि इसका लाभ लंढौर की जनता को मिल सके।
लंढौर बाजार मसूरी का सबसे पुराना बाजार है जो ब्रिटिश काल में सबसे समृद्ध क्षेत्र था लेकिन विकास की अंधी दौड़ में लंढौर पिछड़ गया व धीरे धीरे यहां से पहले सर्वे ऑफ इंडिया चला गया, वहीं इसके बाद पीपीसीएल, एसएमडीसी आदि भी चले गये जिससे लंढौर की आर्थिक स्थिति कमजोर हो गई हालात यह हो गये कि लंढौर बाजार से पलायन होने लगा। लेकिन किसी भी जनप्रतिनिधि, सभासद, पालिकाध्यक्ष, विधायक ने इसके विकास पर ध्यान नहीं दिया। जबकि सरकार पलायन रोकने की बात लगातार करती है। सरकार की जितनी भी योजनाएं आती है वह मालरोड से शुरू होकर मालरोड पर समाप्त हो जाती हैं। ज्ञापन में मांग की गई कि लंढौर मे सर्वे स्टेट की संपत्ति खाली पड़ी है उसमें ऐसे रोजगार या भारत सरकार या राज्य सरकार का ऐसा संस्थान खोला जाय ताकि ताकि लंढौर बाजार की आर्थिक स्थिति में सुधार हो सके। ज्ञापन देने वालों में टेªडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रजत अग्रवाल, जगजीत कुकरेजा, नागेद्र उनियाल, अतुल अग्रवाल, तनमीत खालसा, शुभम कोडाई, बलबीर रावत, रवि गोयल,सतीश जुनेजा, मुकेश खरोला, शहवाजआदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button