लायंस क्लब मसूरी हिल्स व एलएनएस क्लब मसूरी हिल्स ने संकल्प दिवस मनाया।

0
44

रिपोर्टर सुमित कंसल मसूरी

लायंस क्लब मसूरी हिल्स व एलएनएस क्लब मसूरी हिल्स ने संकल्प दिवस मनाया।

मसूरी। लायंस क्लब मसूरी हिल्स एवं एलएनएस क्लब मसूरी हिल्स ने संकल्प दिवस मनाया व आतंकवाद को समाप्त करने व पडोसी देशों के द्वारा कब्जाई गई भारतीय भूमि को खाली करवाने के लिए भारत सरकार को ज्ञापन भेजने का निर्णय लिया गया।
मालूम हो कि 22 फ़रवरी 1994 के दिन भारतीय संसद ने एक प्रस्ताव पारित किया था। इस प्रस्ताव में यह कहा गया था की संपूर्ण जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है व पाकिस्तान को भारत में आतंकवाद को बढ़ावा नहीं देना चाहिए तथा पाकिस्तान को जो भारतीय भूमि उसने ग़ैर क़ानूनी ढंग से अधिकृत कर रखी है, उसे ख़ाली कर देनी चाहिए। लायंस क्लब मसूरी हिल्स व एलएनएस क्लब मसूरी हिल्स की संयुक्त बैठक में संकल्प दिवस मनाया गया। इस मौके पर लददाख एवं जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र की सदस्य निधि बहुगुणा ने कहा कि संसद में पास हुए इस प्रस्ताव को अमलीजामा पहनाने के लिए भारत सरकार को प्रयत्न करने चाहिए। उन्होंने बताया कि 1947 में पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर पर आक्रमण कर क़रीब 75000स्कवायर किमी, भूमि गिलगित बलतिस्तान क्षेत्र में, 14000स्कवायर किमी भूमि मीरपुर मुज़फ़्फ़राबाद में अधिकृत कर ली थी। वहीं 1962 में चीन ने लद्दाख़ में 35000स्कवायर किमी भारतीय भूमि पर गैर कानूनी तरीके से क़ब्ज़ा कर लिया था। वहीं 1963 में पाकिस्तान ने भारतीय भूमि शक्सगम घाटी को अनाधिकृत रूप से चीन को दे दिया था। इसके अतिरिक्त तिब्बत में मिनसर नाम का भारतीय एनकलेव, जो कैलाश मानसरोवर का रख रखाव करता था, उसको 1954 में चीन को दे दिया गया था। इस मौके पर क्लब के सदस्यों को लद्दाख़ व जम्मू कश्मीर अध्यन केंद्र द्वारा संसद के प्रस्ताव की प्रतिलिपि व अधिकृत क्षेत्रों पर लेख वितरित किया गया व संसद में प्रस्ताव की पृष्टभूमि पर चर्चा की गयी। सदस्यों का यह मत था कि इस मसले को आगे प्रसारित करना चाहिए व सरकार को इस समस्या का हल करने के लिए प्रेरित करना चाहिए। गोष्ठी में लायन राजीव गोयल, आर॰एन माथुर, मदन मोहन शर्मा, लायन अनुज तायल, लायन निधि बहुगुणा, लायन विवेक बहुगुणा, प्रफ़ुल माथुर, एलएनएस मोनिका अग्रवाल, निधि, निशु, माधुरी शर्मा, लता, शशि, रजनी, वंदना आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here