रोलर स्केटिंग बास्केट बाल में पदक लाने वाले छात्रों को पालिका ने किया सम्मानित।

0
43

रोलर स्केटिंग बास्केट बाल में पदक लाने वाले छात्रों को पालिका ने किया सम्मानित।

मसूरी। नगर पालिका सभागार में नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता के तत्वाधान में आयोजित का र्यक्रम में मसूरी पब्लिक स्कूल के छह छात्रों को सम्मानित किया गया जिन्होंने हाल में नेपाल में आयोजित अतंर्राष्ट्रीय रोलर स्केंिटग बास्केट बॉल प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया व स्वर्ण व रजत पदक हासिल किए।

नगर पालिका सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में मास्टर दक्ष पंवार, मौ. उवैश, मास्टर अयांश नेगी, मास्टर अक्षत सजवाण, मास्टर आदित्य बिष्ट व अनिद्ध राणा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाले बच्चो ने अंडर 12, अंडर 14, अंडर 17 व अंडर 19 में पदक हासिल किए। इस मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुुए बतौर मुख्य अतिथि पूर्व विधायक व उत्तराखंड क्रिक्रेट एसोसिएशन के अध्यक्ष जोत सिंह गुनसोला ने रोलर स्केंटिंग बास्केट बॉल में अंतर्राष्टीय प्रतियोगिता में पदक लाने वाले छात्रों को बधाई दी व कहा कि इसके लिए उनके कोच, प्रबंधक व प्रधानाचार्य भी बधाई के पात्र है जिनकी कड़ी मेहनत से यह सफलता मिली।

उन्होंने कहा कि मसूरी स्केंंिटग का प्रमुख स्थान रहा है यहां पर नेशनल प्रतियोगिताएं होती थी लेकिन धीरे धीरे सिमट कर अब मात्र कुछ स्कूलों तक रह गई। और स्केटिंग हॉल भी बंद हो गये। उन्होंने नगर पालिकाध्यक्ष से मांग की कि मसूरी के रोलर स्केंटिंग के लिए एक इनडोर हॉल बनवायें ताकि बच्चे इसका लाभ ले सके। इस मौके पर पालिकाघ्यक्ष अनुज गुप्ता ने कहा कि रोलर स्केटिंग के नेपाल में प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया है

जिसके पीछे उददेश्य है कि युवा पीढ़ी इस खेल की ओर आकर्षित हो। उन्हांेेने कहा कि स्केंटिंग में मसूरी का नाम देश व विदेशों में रहा है यह गौरव वापस आये इसका पूरा प्रयास किया जायेगा व इन बच्चों को पूरा सहयोग किया जायेगा। उन्हांेने कहा कि इन बच्चों ने मसूरी का नाम प्रदेश व देश में किया है। इस मौके पर स्केटर गोपाल भारद्वाज ने मसूरी के स्केंिटग के इतिहास पर प्रकाश डाला व बताया कि एक समय मसूरी में यह सबसे प्रमुख खेल था और मसूरी से निकले खिलाड़ियों ने देश ही नहीं विदेशों के कई देशों में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। वहीं मसूरी से दिल्ली व अमृतसर तक रोड रेस का रिकार्ड भी बनाया। कार्यक्रम में रूपचंद गुरूजी ने कहा कि मसूरी में स्केटिंग को वापस लाने का प्रयास किया जा रहा है इसके लिए नगर पालिका से पूर्व में स्केटिंग का मैदान बनाने की मांग की गई थी व जो जगह चिन्हित की गई थी उसमे ंदीवार लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी को कभी हार नहीं माननी चाहिए इसी क्रम में 40 वर्षों से लगातार प्रयास करने पर अब भिलाडू स्टेडियम का कार्य शुरू हो गया है।अंत मंे मसूरी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य अमित जुगराण ने सभी का आभार व्यक्त किया व विद्यालय का सहयोग करने पर धन्यवाद दिया। इस मौके पर टीम के कोच व सहयोग करने वालों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मसूरी स्पोर्टस एसोसिएशन के अध्यक्ष बीएस नेगी, संगाड़ा सिंह, राजश्री रावत, लीला कंडारी, राधा आनंद, रजनी एकांत, अनिल गोदियाल, मिजान सिंह, संदीप राणा,अश्वनी मित्तल,पूनम सिंह, सभासद जसोदा शर्मा, सरिता पंवार, आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here