मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन में देहरादून में रैतिक परेड का आयोजन किया

0
177

देहरादून  राष्ट्रीय एकता दिवस
आज दिनाँक: 31-10-2020 को राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन देहरादून में रैतिक परेड का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, मां0 मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड महोदय द्वारा मान प्रणाम ग्रहण कर परेड का निरीक्षण किया गया। परेड का नेतृत्व डाॅ0टी0सी0मंजूनाथ, पुलिस अधीक्षक रेलव/सेनानायक आई0आर0बी0 द्वितीय, द्वितीय कमाण्ड सुश्री रेखा यादव, सहायक पुलिस अधीक्षक देहरादून व परेड एडज्यूटेन्ट सुश्री पल्लवी त्यागी, पुलिस उपाधीक्षक, नेहरू कालोनी देहरादून के साथ किया गया।

परेड में उत्तराखण्ड पुलिस की विभिन्न शाखाओं, ट्रेफिक पुलिस, नागरिक पुलिस, पी0ए0सी0, महिला पी0ए0सी0, कमाण्डो दस्ता, तथा ए0टी0एस0 आदि सम्मिलित हुए। कार्यक्रम का संचालन उप निरीक्षक सुश्री पूनम प्रजापति एवं आरक्षी फायर मनीष पंत द्वारा किया गया।


कार्यक्रम के दौरान मां0 मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड महोदय द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित सभी महानुभावों एवं अन्य अतिथिगणों को राष्ट्रीय एकता व अखण्डता की शपथ दिलाई गयी। इस अवसर पर मा0 मुख्य अतिथि महोदय द्वारा अनुपम एंव विशेष प्रासंगिक कार्यों के लिये पुलिस अधिकारियो को सम्मानित किया गया। जिसमें अग्निशमन एवं आपा सेवा में नियुक्त निम्नलिखित कर्मचारीगणों को महामहीम राष्ट्रपति भारत सरकार द्वारा उनकी सराहनीय सेवा हेतु राष्ट्रपति का “अग्निशमन विशिष्ट सेवा पदक” एवं “अग्निशमन सराहनीय सेवा पदक” से सम्मानित किया गया ।

01: श्री कृपाराम शर्मा, लीडिंग फायरमैन जनपद पौडी गढवाल-विशिष्ट सेवा पदक, 02: श्री वंशबहादुर यादव, मुख्य अग्निशमन अधिकारी जनपद अल्मोडा वर्तमान में ऊधमसिंह नगर-सराहनीय सेवा पदक 03: श्री राजेन्द्र सिंह लीडिंग फायरमैन, अल्मोडा- सराहनीय सेवा पदक, 04: श्री अर्जुन सिंह लीडिंग फायरमैन नैनीताल- सराहनीय सेवा पदक तथा 05 श्री यशपाल सिंह फायर सर्विस चालक पौडी गढवाल- सराहनीय सेवा पदक।

इसी क्रम में निरीक्षक श्री भारत सिंह, साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून को उत्कृष्ठ विवेचना का पुरूस्कार दिया गया । इसके अतिरिक्त जनपद देहरादून के थाना पटेलनगर में ज्वैलर्स के साथ हुई लूट की घटना का त्वरित अनावरण करने पर टीम में सम्मिलित उप निरीक्षक दिलबर सिंह नेगी , उप निरीक्षक धर्मेन्द्र सिंह रौतेला, उप निरीक्षक आशीष रावत,कान दीप प्रकाश व का0 नरेन्द्र टीम को उत्कृष्ट अनावरण हेतु टीम से उ0नि0 श्री आशीष रावत साईबर सेल जनपद देहरादून तथा उ0नि0 श्री दिनेशनाथ महंत थानाध्यक्ष कालाढॅंगी को उत्कृष्ठ अनावारण हेतु पुरूस्कार दिया गया।

इसके अतिरिक्त ब्यूरो आफ पुलिस रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट के द्वारा निर्धारित मानकों के आधार पर मां0 मुख्यमंत्री महोदय द्वारा इस वर्ष थाना पोखरी जनपद चमोली को बेस्ट थाना के रूप में चयनित किया गया। जिसके लिये उ0नि0 मनोहर सिंह थानाध्यक्ष थाना पोखरी जनपद चमोली को थाने की ट्राफी प्रदान की गयी।

*मा0 मुख्यमंत्री जी का सम्बोधन:*
सरदार वल्लभ भाई पटेल की 145 वीं जयंती राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर मैं राज्य की ओर से उन्हें श्रृद्धा सुमन अर्पित करता हूँ। सरदार वल्लभ भाई पटेल जिन्होने देश की आजादी से पहले, देश की आजादी के लिये लम्बा संघर्ष किया, तमाम तरह की यातनाएं झेलीं और देश की आजादी के बाद जब देश की एकता पर कुछ बादल मंडरा रहे थे, तमाम रियासतें देश के अन्दर सिर उठाने का काम कर रही थीं, कश्मीर अलग से सर उठा रहा था, ऐसे में सरदार वल्लभ भाई पटेल ने अपनी मजबूत इच्छा शक्ति का परिचय देते हुए तमाम रियासतों को देश की मुख्य धारा में सम्मिलित करने का काम किया।

जो समझ सके उनको समझाकर किया नहीं तो जिस भाषा में समझ सकते थे उस भाषा में समझाने का काम किया और देश की एकता और अखण्डता को मजबूत करने के लिये मजबूत पहल की ऐसे सरदार वल्लभ भाई पटेल को हम अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं। मित्रों किसी भी देश के लिये, किसी भी राज्य के लिये और किसी भी बल के लिये बल की एकता बहुत जरूरी है। एकता में ही शक्ति होती है, एकता से ही हम एक से एक मिलाकर दो नंही ग्यारह हो जाते हैं। इस तरह से बल की शक्ति, समाज की शक्ति एकता से ही बढती है।

इसी तरह किसी देश की मजबूती के लिये ये बहुत जरूरी है कि उसका समाज समान रूप से मजबूत हो, समाज का समान रूप से विकास हो तभी वो समाज मजबूत हो सकता है, और वो समाज राष्ट्र की मजबूती के लिये, राष्ट्र की आर्थिक तरक्की के लिये अपना योगदान कर सकता है। सरदार वल्लभ भाई पटेल ने अपने शासनकाल में अपने समय में आजादी के बाद देश की एकता तथा देश के मजबूत कवच के लिये हमारे प्रशासनिक तंत्र तथा हमारे पुलिस बल को भी दिशा एवं मजबूती देने का कार्य किया। मैं आज आपको यह भी बताना चाहता हूं कि, अभी कोविड-19 महामारी के कारण जिस प्रकार देश मां0 प्रधानमंत्री जी के आहवान पर एक जुट होकर के इस महामारी के खिलाफ लडाई लडी, आज दुनिया के सामने हमारा देश एक मिसाल बनकर खडा हुआ है। भातर वर्ष आज काफी हद तक इस बीमारी पर नियंत्रण पाने में सफल हुआ है। समाज के सभी वर्ग इस बीमारी के विरूद्ध एक जुट होकर लडाई लड रहे हैं।

असावधानी से खतरा बढ सकता है, इसके लिये हमें कुछ समय तक अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी।क्योंकि सावधानी ही अभी इसकी एकमात्र दवा है। हमें भ्रष्टाचार तथा अवैध रूप से प्रदेश के अन्दर घुसने का प्रयास करने वाले नशा माफिया, खनन माफिया वन माफिया के विरूद्ध एक जुट होकर लडना होगा, मैं प्रदेश वासियों से भी कहना चाहता हूं कि इस जंग के लिये हम सब आगे आ जाये। हम अपने प्रदेश को इस प्रकार के माफिया तत्रं से मुक्त करने लिये संकल्पबद्ध हैं और अन्तिम सांस तक संकल्पबद्ध रहेंगे। सरदार वल्लभ भाई पटेल का जीवन हमें इसके लिये प्रेरणा एंव बल देने में और सहायक सिद्ध होगा। जय हिन्द।

पुलिस महानिदेशक महोदय का उद्धबोधन
राष्ट्रीय एकता दिवस 2020 के अवसर पर पुलिस लाइन देहरादून में मैं आपका हार्दिक स्वागत करता हूँ, आज दिनाँक: 31-10-2020 को हम लोग सरदार वल्लभ भाई पटेल की जन्मतिथि के अवसर पर उन्हें याद करके राष्ट्रीय एकता दिवस मना रहे हैं। इस अवसर पर मैं समस्त पुलिस परिवार की ओर से उन्हें श्रृद्धा सुमन अर्पित करता हूँ। सरदार वल्लभ भाई पटेल जिन्हें लौह पुरूष भी कहा जाता है, ने भारत के स्वतन्त्रता संग्राम में अहम भूमिका निभाई और आजादी के पश्चात् वह भारत के प्रथम गृह मंत्री बने। सरदार वल्लभ भाई पटेल का भारत के गृह मंत्री का कार्यकाल आधुनिक भारत के लिये एक ऐतिहासिक कार्यकाल रहा, क्यूंकि सरदार वल्लभ भाई पटेल द्वारा 550 से अधिक विभिन्न रियासतों को अपने कुशल नेतृत्व, इच्छा शक्ति एंव दूर दृष्टिता के जरिये भारत में विलय कर आज के भारत की अखण्डता में अत्यन्त महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। सरदार वल्लभ भाई पटेल द्वारा भारत की प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ करने में भी महत्वपूर्ण योग दान दिया गया। उन्होने अखिल भारतीय सेवाओं का स्वाधीन भारत में एक नया स्वरूप् रखा। जिसमें भारतीय पुलिस सेवा भी सम्मिलित थी। भारत के पहले गृह मंत्री के नाते उन्होने भारत की आधुनिक पुलिस व्यवस्था की रूप रेखा में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया। हैदराबाद में स्थित राष्ट्रीय पुलिस अकादमी को भी आज सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी के नाम से जाना जाता है। सरदार वल्लभ भाई पटेल द्वारा अपनी स्पष्ट नीती, व्यवहार कौशलता एवं अदम्य प्रशासनिक क्षमता के बल पर स्वाधीन भारत में देश भक्ति एकता एवं अखण्डता का भाव जगाकर भारत देश में एकीकरण हेतु अतुल्य योगदान दिया गया। आज जब विश्व एवं देश आतंकवाद और कोविड-19 जैसी समस्याओं से जूझ रहा है ऐसे समय में देश की सुरक्षा, विकास, समृद्धि एवं अखण्डता बनाये रखने में सरदार वल्लभ भाई पटेल एक प्रेरणा के स्त्रोत हैं।
आज हम सभी सरदार वल्लभ भाई पटेल से प्रेरणा लेते हुए अपने संविधान के प्रति समर्पित होते हुए अपने देश की अखण्डता एवं सम्प्रभुता को अक्षुण रखते हुए राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर अपने-अपने कर्तव्यों का और भली भांति निर्वहन करें। हम मां0 मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में एक पारदर्शी, मानवीय और कुशल पुलिस व्यवस्था बनाने हेतु कटिबद्ध हैं। भारत सही पूरा विश्व कई महीनों से कोविड-19 की महामारी से लड रहा है, उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण हेतु पूर्ण प्रयास किये जा रहे हैं। जिनमें प्रवासी मजूदरों/पर्यटकों को सुरक्षित उनके गन्तव्य तक पहुंचाना, कोविड-19 की रोकथाम हेतु समय-समय पर जारी निर्देशों का कडाई से पालन करवाना, भोजन वितरण तथा सार्वजनिक स्थानों पर सैनेटाइजेशन आदि के कार्य शामिल हैं। कोविड-19 में कर्तव्य पालन के दौरान उत्तराखण्ड पुलिस के कुछ कर्मियों को अपनी जान भी खोनी पडी, कर्तव्य के प्रति समर्पित शहीद पुलिस अधिकारियांे/कर्मचारियों के सम्मान में भारत सरकार द्वारा दिये गये निर्देशों के सम्बन्ध में इस वर्ष 21 से 31 अक्टूबर तक विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये गये। जिसमें पुलिस झण्डा दिवस, शहीद के परिवारजनों को शहीद परेड में तथा घर-घर जाकर सम्मानित किया जाना, शहीदों की फोटो गैलरी का आयोजन व वर्चुवल रन फार युनिटी का आयोजन, जनपद हरिद्वार, देहरादून तथा नैनीताल पुलिस बैण्ड शो आयोजन प्रमुख हैं। राज्य पुलिस विशेष तौर से अच्छी सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाने के ध्येय से अपने राज्य एवं देश की एकता के प्रति और समर्पित हो। इस अवसर पर मैं राज्य पुलिस के मुखिया के तौर पर आपको आश्वस्त करना चाहुंगा कि उत्तराखण्ड पुलिस राज्य एवं देश में एकता को अक्षुण रखने के लिये निरंतर प्रयासरत रहेगी। मैं समस्त पुलिस परिवार की ओर से मां0 मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद देना चाहता हूँ कि उन्होने आज की परेड में मुख्य अतिथि बनकर रैतिक परेड की गरिमा में और बढोत्तरी की। मैं अन्य सभी अति विशिष्ट महानुभावों को भी धन्यवाद देना चाहता हूँ कि उन्होने यहाँ पधारकर हमें कृतज्ञ किया।
राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर आयोजित रैतिक परेड कार्यक्रम में श्रीमती माला राज्यलक्ष्मी शाह मां0 सांसद टिहरी, श्री प्रेमचन्द अग्रवाल मां0 विधानसभा अध्यक्ष, मा0 विधायकगण श्री हरबंस कपूर, श्री खजान दास, श्री गणेश जोशी, श्री सुनील उनियाल गामा मेयर देहरादून, श्रीमती राधा रतूडी अपर मुख्य सचिव, श्री अनिल के0 रतूडी पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड, श्री अशोक कुमार महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था, समस्त पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस उप महानिरीक्षक सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारीगण एवं अन्य गणमान्य महानुभाव उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here