एमपीजी कॉलेज में प्रवेश को लेकर असमंजस में है छात्र-छात्राएं |

0
37

रिपोर्टर सुमित कंसल मसूरी

एमपीजी कॉलेज में प्रवेश को लेकर असमंजस में है छात्र-छात्राएं |

मसूरी। मसूरी के एकमात्र पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज में छात्र छात्राओं के प्रवेश को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। हेमवती नंदन बहुगुणा केद्रीय विश्वविद्यालय द्वारा बीएससी तृतीय सेमेस्टर के परिणाम घोषित न होने के कारण कॉलेज में छात्र-छात्राओं के भविष्य पर संकट गहरा गया है।
छात्र छात्राओं का कहना है कि विश्वविद्यालय द्वारा शीघ्र परिणाम घोषित नहीं किए गए तो उनका 1 साल खराब हो जाएगा जिसको लेकर छात्र-छात्राओं में अपने भविष्य को लेकर संशय उत्पन्न हो गया है। इस संबंध में कॉलेज के प्राचार्य से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि उन्होंने लिखित रूप में से विश्वविद्यालय को अवगत करा दिया गया है साथ ही पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को आश्वस्त किया गया है कि उनके भविष्य पर किसी प्रकार की आंच नहीं आने दी जाएगी। एमपीजी कॉलेज छात्र संघ अध्यक्ष प्रिंस ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में प्राचार्य डा. सुनील पंवार से वार्ता की है और छात्र छात्राओं के प्रवेश को लेकर शीघ्र कार्रवाई करने की बात कही है। एमपीजी कॉलेज की छात्रा बरखा ने बताया कि वह काफी दिनों से प्रवेश पत्र जमा कराने के लिए कॉलेज के चक्कर काट रही है लेकिन उनका प्रवेश पत्र अभी तक जमा नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें प्रवेश नहीं दिया गया तो उनकी पढ़ाई में दिक्कत पैदा हो जाएगी। इस संबंध में प्रधानाचार्य डा. सुनील पंवार ने कहा कि सेमेस्टर सिस्टम में कुछ परेशानी आ रही है। बीएससी प्रथम व द्वितीय सेमेस्टर था उसका 13 जनवरी को परिणाम आया व जब कि फार्म भरने की तारीख 10 जनवरी थी जिसके लिए विश्व विद्यालय को लिखा कि बच्चों का परीक्षा परिणाम देर से आया है इसलिए फार्म का पोर्टल खोला जाय। व दो बार मेल किया है यहीं परेशानी बीए में आ रही है ऐसे में एक कमेटी बनाकर उनको प्रवेश दे रहे हैं। जिन बच्चोें के मानक पूरा नहीं कर पा रहे हैं उनको परेशानी है उनको प्रवेश नहीं दिया जा सकता ऐसे में विश्व विद्यालय से अनुरोध किया कि उनके परिणाम शीघ्र घोषित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here