अभिभावकों ने अधिशासी अधिकारी छावनी परिषद चकराता पर लगाया तानाशाही का आरोप

0
506

पुलिस के द्वारा हिंदी मैगजीन संवाददाता इलम सिंह चौहान चकराता देहरादून

*अभिभावकों ने अधिशासी अधिकारी छावनी परिषद चकराता पर लगाया तानाशाही का आरोप*

जिला देहरादून के जनजाति क्षेत्र के चकराता केंट इंटर कॉलेज में अभिभावकों द्वारा छावनी परिषद चकराता की सीईओ पर तानाशाही का आरोप लगाया है ।अभिभावकों का कहना है कि 6 जून को सभी अभिभावकों को प्रधानाचार्य तथा शिक्षकों के द्वारा सभी अभिभावकों को कैंट इंटर कॉलेज चकराता बुलाया गया गौरतलब है कि अभिभावकों को को बुलाने का उद्देश्य था लॉक डाउन के कारण स्कूल बंद होने से मिड डे मील का वितरण नहीं हो रहा था इसी वजह से मिड डे मील का कच्चा राशन कुछ धनराशि अभिभावकों तथा छात्रों को वितरित करनी थी परंतु विद्यालय द्वारा अभिभावकों को बुलाए जाने के बावजूद भी विद्यालय परिसर में के गेट पर ताला लगा मिला वहीं अभिभावकों वह प्रधानाचार्य जब विद्यालय के चौकीदार से पूछा उन्होंने बताया कि विद्यालय में सभी का प्रवेश वर्जित है इसके इसके बाद प्रधानाचार्य जी द्वारा सीईओ को फोन करने की कोशिश की गई परंतु सीओ द्वारा फोन नहीं उठाया गया जिस कारण दूर गांव से पैदल चलकर आए गरीब श्रमिक अभिभावकों को खाली हाथ ही वापस जाना पड़ा
वहीं इस पूरे मामले पर सीओ द्वारा कहा गया कि मुझे इस विषय पर किसी के द्वारा बताया नहीं गया उन्होंने बताया कि मिड डे मील योजना राज्य सरकार के अंतर्गत आती है उन्होंने कहा इस विषय पर बात करके पूरे मामले पर संज्ञान लूंगी
वहीं अभिभावकों द्वारा इस मामले पर बाल अधिकार आयोग इस मामले पर शिकायत पत्र भेजा गया इस मौके पर धननू , रविता, राजू देवी, विनीता, पानो, गज्जू आदि ग्रामीण अभिभावक मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here