मसूरी में कांवड़ियों को आने से रोक रही पुलिस, कई कपड़े बदल कर पहुंच रहे।

0
47

मसूरी में कांवड़ियों को आने से रोक रही पुलिस, कई कपड़े बदल कर पहुंच रहे।

मसूरी। सावन के महीने में कावड़ लेकर बड़ी संख्या में देश के विभिन्न स्थानों से कांवड आते हैं यह यात्रा विशुद्ध रूप से धार्मिक होती है लेकिन कांवड़ियों का मसूरी आने का मोह उन्हें खींच रहा है लेकिन कुठालगेट पर पुलिस की सख्ती के कारण उनका मसूरी आने का सपना साकार नहीं हो पा रहा है। हालांकि कुछ कपड़े बदल कर बसों व बाइकों से मसूरी आने में सफल हो रहे हैं।


सावन के पवित्र माह में भगवान शिव के शिवलिंग को अभिषेक करने के लिए गंगा जल लेने बडी संख्या में कांवड लेकर श्रद्धालु आते है। लेकिन उसमें बड़ी संख्या में कांवड़िये जल लेने से पहले मसूरी का रूख कर लेते हैं। विगत वर्षों में उनके द्वारा पर्यटन नगरी में किए गये उत्पात के बाद से प्रशासन ने उनके मसूरी आने पर प्रतिबंध लगा दिया था। तब से कांवड़ियों को मसूरी नहीं आने दिया जाता। इस बार भी पुलिस प्रशासन ने मसूरी आने पर कड़ा प्रतिबंध लगा रखा है। उसके बाद भी कांवड़िये मसूरी आने के लिए प्रयासरत रहते हैं जिन्हें कोठालगेट पर रोका जा रहा है जहां वह पुलिस से उलझ रहे हैं। व कई वहीं पर डेरा डाल कर बैठे हैं। पुलिस का कहना है कि वह गंगा जल लेने आ रखे हैं तो हरिद्वार जायें मसूरी क्यों जाना चाहते हैं। वहीं कई इस पर भी बहाना बना कर आने का प्रयास करते हैं कि उन्हें गंगोत्री जाना है। जबकि उनके लिए वाया विकासनगर का रास्ता खोला गया है। कई तो मसूरी जाने की जिद पर अड़े हुए हैं लेकिन पुलिस द्वारा बैरिकेट लगाकर कावड़ियों का प्रवेश बंद कर दिया गया है। मौके पर मौजूद एसआई सुमेर सिंह ने बताया कि उच्च अधिकारियों द्वारा निर्देशित किया गया है कि कोठालगेट से कांवड़ियों को वापस भेज दिया जाए और उन्हें मसूरी की ओर जाने से रोका जाए। जिसको लेकर पुलिस द्वारा यहां पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं और काफी संख्या में पुलिसकर्मी रात दिन मुस्तैदी से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से मसूरी प्रवेश पर रोक लगा दी गई है साथ ही पुलिस कर्मियों के लिए बैठने और खाने की व्यवस्था भी की गई है। वही हरियाणा से आए सौरभ ने बताया कि वह यहां से मसूरी के रास्ते गंगोत्री जाना चाहते हैं लेकिन पुलिस द्वारा उन्हें रोक दिया गया है और उन्हें वापस जाने के लिए कहा गया है उन्होंने कहा कि देहरादून में भी उनको प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा था लेकिन वह किसी तरीके से यहां तक पहुंचे हैं और मसूरी के रास्ते गंगोत्री जाना चाहते हैं। लेकिन पुलिस द्वारा उन्हें आगे जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here