केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रीतम सिंह को जिताने की अपील की।

0
115

रिपोर्ट सुमित कंसल मसूरी

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रीतम सिंह को जिताने की अपील की।

मसूरी। धनोल्टी विधान सभा के थत्यूड़ में भाजपा प्रत्याशी प्रीतम सिंह पंवार के पक्ष में एक जन सभा को सबोधित करते हुये गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि उत्तराखंड देव् भूमि है यहां का कण कण देव् तुल्य है,यहां कि जनता कांग्रेस के खोखले ख्वाबों को भली भांति समझती है,

कांग्रेस अपने आप तो डूबती जा रही है लेकिन उसके अनुशरण पर चल रहे कुछ बगावतियो को भी डुबाती जा रही है।
जौनपुर विकासखण्ड के थत्यूड़ में एक विशाल जन सभा को सम्बोधित करते हुये गृह मंत्री अमित शाह कांग्रेस पर जमकर बरसे, उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा फूट डालने का काम किया है, उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि जब बिल्ली किसी वस्तु को हासिल नही कर सकती तो वह उसे गिराने का प्रयास करती है। होता क्या है कि वह बर्तन उसके ऊपर ही गिर जाता है, उन्होंने लोगो को भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में बढ़चढ़ कर मतदान करने की अपील है, उन्होंने भाजपा प्रत्याशी प्रीतम सिंह पंवार की काबिलियत के कसीदे पढ़े, और कहा कि धनोल्टी की जनता प्रीतम सिंह पंवार को बडे अंतराल से विजयी बनाकर विधान सभा भेजेंगे। उन्होंने आश्वस्त करवाया कि उत्तराखंड में पुनः भाजपा की सरकार बननी निश्चित है, और जब भाजपा की सरकार बनेगी तो उत्तराखंड के चौमुखी विकास का रास्ता आगे बढ़ेगा। उन्होंने केदार नाथ से लेकर प्रदेश के हर विकास कार्यों को छूते हुए कहा कि देहरादून तक मेट्रो भी पहुंचाई जायेगी, उन्होंने हरीश रावत व राहुल गांधी को जमकर कोसा,कांग्रेस की ना ही ईच्छा है और ना ही शक्ति है।
इस मौके पर राज्य सभा सांसद अनिल बलोनी धनोल्टी विधान सभा से भाजपा प्रत्याशी प्रीतम सिंह पंवार,ने भी जन समूह का सम्भोधन किया, कार्यक्रम में मंडल अध्यक्ष हीरा मणि गौड़, हुकम चंद रमोला, रामचंद्र खंडूरी ,शुभाष रमोला,ब्लॉक प्रमुख सीता रावत, समीर पंवार राजेश नॉटियाल मीरा सकलानी, गीता रावत, बिरेन्द्र सिंह राणा, कुवँर सिंह पंवार, आशुतोतोष कोठारी, सनबीर बेलवाल, अभिलाष कुमार, राजेन्द्र कोहली, जयपाल शाह, चंद्र सिंह रावत, प्रेम सिंह राणा, दिलमणी गौड़, गोबिंद सिंह राणा, मीजान सिंह,घन श्याम गौड़, शांति प्रसाद, रत्नमणि खंडूरी, देबेन्द्र चमोली, सहित भाजपा के विभिन्न संगठन के पदाधिकारी व भारी तादात में नैनबाग, सकलाना, थौलधार व थत्यूड़ का जन समूह मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here