देहरादून निरंकारी समागम में उमड़ा जनसैलाब माता सुदीक्षा जी महाराज ने किया भवन का उद्घाटन

0
1490

इलम चौहान रिपोर्टर

निरंकारी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के देहरादून आगमन पर नवनिर्मित निरंकारी सत्संग भवन का लोकार्पण एवं संत समागम🙏🏿🌷🌷🙏🏿🌷🌷
देहरादून 30 सितंबर 2018 l उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में निरंकारी भक्तों के लिए खुशियों भरा दिन रहा निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा सविंदर हरदेव जी महाराज ने अपने प्रथम आगमन के अवसर पर ढोल नगाडो एवं दूर दूर क्षेत्र से आए हुए संतो महापुरुषों की मौजूदगी में नवनिर्मित निरंकारी सत्संग भवन का विधिवत लोकार्पण किया । बताते चलें की सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के गद्दी संभालते ही देवभूमि उत्तराखंड की धरती पर यह पहला संत समागम है जिसकी अध्यक्षता निरंकारी मिशन की छठी गुरु सुदीक्षा जी महाराज ने की बाबा हरदेव सिंह जी महाराज जी का आज एक और सपना साकार हो गया जब उनके द्वारा स्वीकृत 20000 संतो के बैठने की क्षमता वाला भवन आज संतो को समर्पित हो गया। इस विशाल संत समागम को संबोधित करते हुए अपने विचारों में कहा की भक्ति किसी उम्र की मोहताज नहीं होती आपने कहा की भक्त 4 तरह के होते हैं ।आर्थ ,अथातीँ, जिज्ञासु, ज्ञानी । जिसमें ज्ञानी सबसे श्रेष्ठ होता है। जो निरंकार पर विश्वास करता है उसे ज्ञान की समझ आ जाती है वह शिकवे शिकायत नहीं करते और निरंतर निरंकार दातार का शुकराना करते हैं आपने जब बाबा शहंशाह जी के समय का भी उदाहरण देते हुए बताया की जो भी अरदास संत करते थे वह पूरी हो जाती थी। कार्यक्रम में देहरादून के आसपास के प्रांतों के अलावा गढ़वाल मंडल ,कुमाऊं, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश आदि स्थानों से काफी तादाद में संतों महापुरुषों ने भाग लिया सेवादल के भाई बहनों के साथ संगतोँ ने रात दिन एक करके समागम को सफल बनाने में अपना अमूल्य योगदान दिया दूर दूर से आई संगतोँ के बैठने लंगर प्याऊ ट्रैफिक आदि की सुंदर तरीके से व्यवस्था की गई यातायात का भी ध्यान रखा गया ताकि आने जाने वालों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो। मसूरी जॉन के जोनल इंचार्ज हरभजन सिंह एवं संयोजक कलम सिंह रावत ने सतगुरु माता सुदीक्षा जी का स्वागत किया इस अवसर पर उन्होंने दूर दूर से आए संतों का धन्यवाद दिया विशाल संत समागम में वक्ताओं एवं गीतकार ओं ने मानवता का रुतबा बुलंद करने वाले गीत व विचार रखें और गढ़वाली कुमाऊनी जौनसारी हिमाचली भाषा में भी अनेक भजनों ने संतो को निहाल किया और अपने मुर्शिद का आशीर्वाद प्राप्त किया। एकतत्व भाईचारे मानव को मानव हो प्यारा एक दूजे का बने सहारा। एक नूर है सब के अंदर नरहे चाहे नारी है। दीवार रहित संसार बनाएं आपस में सब प्यार बढ़ाए आदि संदेशों के माध्यम से समाज को आगे बढ़ने की प्रेरणा दी गई।
इस अवसर पर मसूरी जॉन के जोनल इंचार्ज संत हरभजन सिंह संयोजक कलम सिंह रावत श्री मोलू राम आर्य जी बी पी जोशी जसराम थपलियाल ललित मोहन भट्ट क्षेत्रीय संचालक दिलबर सिंह पवार संचालक पूज्य सेवादल मनजीत सिंह कमेटी मेंबर नरेश विरवानी विजय रावत जी अजय दत्ता जी नरेंद्र राठौर सुभाष चंद्रा दर्शन लाल विकास बिहानिया राकेश डोभाल वीरेंद्र विरमानी डॉक्टर साजन जयनंदन मणि भारती जगत सिंह भंडारी राजेश जी सुशीला रावत अंजू रावत सुरेंद्र दत्त जोशी एवं सेवादल के भाई बहन के अलावा राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने समागम मैं अपना योगदान दिया एवं शोभा बढ़ाई मंच का संचालन ज्ञान प्रचारक महात्मा राजीव बिजलवान जी ने बहुत सुंदर ढंग से किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here