देहरादून में पुराने स्वास्थ्य निदेशालय में कई कानूनी मुद्दों को लेकर न्यायाधीश के साथ डॉक्टरों की हुई बैठक, डॉ वीरेंद्र चौहान ने उठाए कई अहम मुद्दे

0
387

आज 11 फ़रवरी को सी॰एम॰ओ॰ (देहरादून) डा० रतूड़ी जी द्वारा एक पी सी पी एन डी टी पोसको एम॰टी॰पी॰और दहेज उत्पीड़न के नियम क़ानूनों को लेकर पुराने स्वास्थ्य निदेशालय में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया !
वक़्ता के तौर पर राज्य विधिक सलाहकार पंचोंली तथा जज श्री मति कुशवाह को आमंत्रित किया गया था।डॉ0 वीरेंद्र चौहान को भी इस कार्यशाला में साथियों के साथ प्रतिभाग करने का अवसर मिला।सेमिनार में कई मुद्दों को लेकर सवाल जवाब हुये।लेकिन कोई भी सवाल जवाब करने में असमर्थ था। लेकिन न्यायधीश श्रीमति कुशवाह ने कहा कि कोई भी बिना संकोच के अपनी बात कह सकता है।डॉ0 वीरेंद्र चौहान खड़े होकर कहा- जज ने कहा कोई कपल SD कराने को कहता है तो उसकी तुरंत रिपोर्ट पुलिस को करो या SSP को करो या सीधे विधिक सेवा में जज के पास शिकायत करो।यदि नहीं करेंगे तो डाक्टर दोषी माना जायेगा डॉ0 वीरेंद्र ने ये भी कहा कि जज साहिबा कल जो गर्भवती महिला है वो ही कहेगी डाक्टर झूठ बोल रहा है।

और हमारे पास इसका कोई सबूत भी नहीं होगा,उन्होंने जो उत्तर दिया वो संतोष जनक नहीं था।जज ने कहा वो हम देख लेंगे !जज का दूसरा निर्देश था की कोई भी पोकसो में छोटी लड़की आपके पास आती है तो उसको चेक करने से आप मना नहीं कर सकते और तुरंत पुलिस को रिपोर्ट करें ! यदि नहीं किया तो डाक्टर पर कार्यवाही होगी !

डॉ0 वीरेंद्र ने उनसे बाद में पर्सनली पुछा की महोदया वे एक पुरुष डाक्टर हैं।उन्हें छोटी लड़की की पेलविक जाँच नहीं करनी है,वे उस छोटी लड़की को सरकारी अस्पताल में लेडी डाक्टर के पास रेफर करना चाहते हैं।वे नहीं देखना चाहते उसे, तो उनके पास कोई उत्तर नहीं था !सब लोग चुप थे तो डॉ0 चौहान ने कार्यशाला को थोड़ा इंटेरएकटिव बनाने को विधिक सलाहकार से पुछा की ये सोनोलोजींसट किसे कहते है ? ऐसी कोई डिग्री या कोर्स कहीं भी नहीं होता।तो उनके पास इसका भी कोई उत्तर नहीं था।साथियों आप लोगों को अपनी बात निसंकोच रखनी चाहिये नहीं तो ये अधिकारी लोग सोचते है। ये डाक्टर लोग डरते है। और ग़लत करते है !मित्रों डंके की चोट पर सही काम करो और डर को दिल से निकाल दो और दुनिया पर पहले की तरह राज करो,अपनी खोई हुई शक्ति वापस प्राप्त करें।विकास नगर से डा० वीरेंद्र चौहान,डा० मनीषा तोमर,डा० सरोज चंद,डा०विकास जैन,डा०सूक्ष्म भण्डारी,डा० कापरी,डा०तारा और डा० लोकेश शर्मा आदी ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here