जंगलों को आग से बचाने के लिए नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक किया।

0
25

रिपोर्टर सुमित कंसल मसूरी

जंगलों को आग से बचाने के लिए नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक किया।

मसूरी। मसूरी वन प्रभाग की भद्रीगाड़ रेंज में हंस फाउंडेशन के साथ मिलकर वनग्नि रोकथाम हेतु नुक्कड़ नाटक के माध्यम से गांव गांव में जाकर जन जागरूकता अभियान शुरू किया। गांव के लोगो को नाटक, नुक्कड़ और शपथ दिला कर जंगलों को आग से बचाने के लिए जागरूक किया गया।


ग्रीष्म काल आते ही जंगलों में आग लगने की घटनाएं बढ़ जाती है। जबकि सभी को पता है कि जंगलों में आग लगने से एक बना बनाया जंगल समाप्त हो जाता है व मिट्टी को राख बना देते है। कभी कभी यह दुर्घटना और भी खतरनाक साबित हो सकती है। जिस दिन पर्यावरण में रहने में वाले लोग संसाधनों को सही तरीके से इस्तेमाल करना सीख जायेंगे हमारी आने वाली पीढ़ी एक अच्छी जिंदगी जीने के लायक होगी। इन नुक्कड़ नाटको के माध्यम से यही विचारधारा लोगो तक पहुंचाई जा रही है। हंस फाउंडेशन द्वारा श्रीकोट, सैदुल, पंतवाड़ी में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। सभी ग्रामीणों ने बढ़ चढ़ का हिस्सा लिया। इस मौके पर भद्रीगाड रेंज के समस्त स्टाफ आनंद सिंह कंडारी, अर्जुन कंडारी, सुंदर सिंह, सुरेश चंद, राजमोहन नौटियाल, अनीशा पंवार, महावीर और हंस फाउंडेशन से मुकेश और उनकी टीम मौजूद रही। रेंज अधिकारी मेधावी कीर्ति ने हंस फाउंडेशन का धन्यवाद दिया है और नैनबाग के सभी गांव में इस जन जागरूकता अभियान को आयोजित करने का आग्रह किया है। इन छोटी छोटी कोशिशों से बड़े परिणाम मिलते है। भद्रीगाड़ रेंज और हंस फाउंडेशन मिलकर इस पहल को गांव गांव तक पहुंचाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here