उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा दून मेडिकल कॉलेज के संविधा कर्मचारियों के निकाले जाने के आदेश पर कर्मचारियों ने किया बहिष्कार।

0
39

संवादाता, दीपक सैलवान
देहरादून दून मेडिकल कॉलेज मे संविधा कर्मियों ने किया कार्य बहिष्कार।
दून मेडिकल कॉलेज मे संविधा पर लगे कर्मचारियों ने किया बहिष्कार मरीजों की लगी लम्बी लाईन, कर्मचारियों का कहना है कि राज्य सरकार ने इन सभी कर्मचारियों को निकालने का आदेश जारी कर दिया है।दून मेडिकल कॉलेज मे लगभग 650 संविधा कर्मचारी हैं।

जिनको कोविड के दौरान 2020 मे लोकडाउन में संविदा पर रखा गया था। और सभी कर्मचारी पूरे प्रदेश से आकर कोरोनाकाल में अपने परिवार को छोड़कर अपनी जान जोखिम डालकर कोरोना मरीजों कि सेवा कर रहे थें।उनका का ये भी कहना है कि जब पूरे देश के लोग अपनी जान बचाकर अपने परिवार के बीच में अपने-अपने घरों में छिपे हुए थें, तब यही कर्मचारी अपनी जान पर खेलकर उनकी सेवा कर रहे थें। जबकि कई कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव हो गये थें। उसके बाद भी अपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए बिना डरे काम करते रहे।


कर्मचारियों का कहना है कि जब इनकी भर्ती कि गई थी तब इनको होटल में कमरे दिए गये।लेकिन जैसे ही कोरोना महामरी कम हुई तो होटल के कमरे खाली कराकर इनको बहार कर दिया गया। उसके बाद से सभी कर्मचारियों ने अपना रहने का प्रबंध खुद किया। और अब लगभग कर्मचारी किराये पर रह रहें हैं ।आज कर्मचारियों के कार्य बहिष्कार से हॉस्पिटल में मरीजों कि लम्बी लाईन दिखाई दी क्यों कि दवाई के कोंटर से लेकर लेब टेक्निशियन तक सभी 650 कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार कर दिया। कर्मचारियों ने सरकार को अल्टीमेटम दिया है कि अगर उनको नौकरी से निकाला गया तो वो सड़कों पर उत्तर कर आंदोलन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here