देहरादून,रेलवे के निजीकरण को लेकर मशाल जुलूस निकालते कर्मचारियों के साथ सूर्यकान्त धस्माना।

0
212

रेलवे का निजीकरण नही होने देंगे।रेलवे के निजीकरण के विरोध में मशाल जुलूस
निकाल कर विरोध करते कर्मचारियों के साथ सूर्यकान्त धस्माना।
देहरादून: मोदी सरकार एक एक कर देश के सार्वजनिक क्षेत्र को साजिश कर बेचने का काम कर रहे हैं यह बात आज उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने नार्दन रेलवे मेंस यूनियन द्वारा रेलवे के निजीकरण के विरोध में आयोजित मशाल जुलूस का शुभारंभ करने से पूर्व यूनियन के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मोदी और उनकी सरकार ने इस साजिश के तहत एक मोडस ऑपरेंडी बनाई हुई है।जिसके तहत पहले वे जिस सार्वजनीक क्षेत्र के उपक्रम को बेचना चाहते हैं,उसे धीरे धीरे पंगु बनाते हैं।और फिर अकर्मण्यता का आरोप लगा कर उसे देश भर में बदनाम करते हैं। और फिर उसे औने पौने दामों में अपने उद्योगपति मित्रों को बेच देते हैं।कोल इंडिया से लेकर भारत पेट्रोलियम में ऐसा ही किया गया और अब बीएसएनएल,एयर इंडिया और रेलवे को नीलाम करने की तैयारी है।धस्माना ने कहा कि कांग्रेस देश भर में मोदी सरकार की इस निजीकरण की साजिश के खिलाफ लड़ रही है।और अब

बीएसएनएल,एयर इंडिया व रेलवे की नीलामी को कतई नहीं होने देगी।इस अवसर पर नरमू के अध्यक्ष उग्रसेन सिंह,नगर निगम के पूर्व पार्षद अनूप कपूर,महेश जोशी,तजेंद्र सिंह,राम सिंह,नरेश कुमार,दौलत राम देवेंदर नाथ सहित बड़ी संख्या में रेलवे कर्मचारी शामिल रहे।जुलूस रेलवे गेस्ट हाऊस से प्रारंभ हो कर रेलवे स्टेशन,रेलवे रोड होता हुआ त्यागी रोड रेस्ट कैम्प का चक्कर लगा कर रेलवे कॉलोनी में सम्पन्न हुआ धस्माना ने रिब्बन काट कर व मशालें रौशन कर शुभारंभ किया व पैदल रेलवे स्टेशन पुलिस थाने तक नारेबाजी करते हुए यूनियन के कार्यकर्ताओं के साथ गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here